image

इडली वाली अम्मा... जी हां, यहां ‘एक रुपए की इडली वाली वयोवृद्ध कमलातल सालों से सांभर, चटनी के साथ लोगों को एक रुपए में इडली खिलाती आ रही हैं। उनकी ख्याति एक रुपए की इडली वाली अम्मा के रूप में है। लकड़ी चूल्हे पर इडली पकाते पकाते कमलातल 85 की उम्र पार कर चुकी है पर सोशल मीडिया के इस दौर में उनकी कहानी देश के नामी गिरामी लोगों तक पहुंचने के बाद उनका कम थोड़ा आसान हुआ है। 

उन्हें अब लकड़ी का चूल्हा नहीं फूंकना होगा। उद्योगपति आनंद महिंद्रा और धर्मेंद्र प्रधान के हस्तक्षेप की वजह से उन्हें मुफ्त रसोई गैस कनैक्शन जो मिल गया है। यहां छोटे ढाबों में आमतौर पर जहां इडली 10 रुपए और बड़े रेस्तरां में 50 रुपए तक में मिलती है लेकिन कमलातल हैं कि अपने ठीहे पर पिछले 30 साल से लोगों की भूख शांत करने के लिए सस्ती इडली का यह अनोखा व्यापार कर रही हैं। 

इस उम्र में भी वह सांभर-नारियल की चटनी के साथ रोजाना करीब 600 इडली एक रुपए के हिसाब से ही बेच रही हैं। उनके पति अब इस दुनिया में नहीं हैं। शुरूआत में वह 25 पैसे में इडली बेचती थीं। वहीं कोयंबटूर के जिलाधिकारी के. राजामणि ने भी उनसे कुछ दिन पहले मुलाकात की। उन्होंने कमलातल को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर दिलाने से लेकर अन्य हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: latest viral news in hindi

More News From eknazar

Next Stories
image

free stats