image

दुनिया में अलग अलग तरह के रिवाज माने जाते हैं। ये रिवाज सालों से चले आते हैं जिन्हें आप भी जानकर हैरान रह जायेंगे। इटली के स्वायत्त द्वीप सिलसिली के पालेर्मो कैपुचिन संग्रहालय में रखी 8 हजार लाशों के साथ ही 1252 से ज्यादा ममी की प्रदर्शनी लगाई गई है। इसे मृतकों का शहर कहा जाता है। 

जानकारी के अनुसार पहले यह जगह कब्रिस्तान थी, जिसे संग्रहालय में बदला गया और शवों को ममी के जरिए सुरक्षित रखा गया। यहां 16वीं सदी में ईसाई भिक्षुओं ने शवों को दफनाने और ममी को रखने का काम शुरू किया गया था। अब आम लोग आकर अज्ञात मृतकों की ममी को देख सकते हैं। ममी से जुड़ी कई रिसर्च सामने आई हैं जिन्हें आप भी जान गए होंगे। 

दरअसल, 1920 से यहां शवों का रखने का काम बंद कर दिया गया और इसे संग्रहालय में बदल दिया गया। इस विचित्र संग्रहालय को भिक्षु ही चला रहे हैं। इसमें ममी को कब्रो और ताबूत के अंदर विभिन्न अवस्था में देखा जा सकता है। कुछ ममी पूरी तरह सुरक्षित हैं, तो कुछ छिन्न-भिन्न अवस्था में पहुंच गई हैं. ममी बनाने में 70 दिन का समय लगता था। इसे बनाने के लिए धर्मगुरुओं के साथ-साथ विशेषज्ञ की टीम बनाई जाती थी, जो इस काम को अंजाम देते थे। 

खास बात ये है कि ममी शब्द प्राचीन मिस्र का नहीं, बल्कि अरबी भाषा के मुमिया से बना है, जिसका मतलब होता है मोम या तारकोल के लेप से सुरक्षित रखी गई चीज है। ममी बनाने का काम मिस्र में बहुत ही धार्मिक श्रद्धा भाव से किया जाता था। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: italy mummy museum

More News From variety

IPL 2019 News Update
free stats