image

सूत्रों की माने तो उत्तरी भारत में लगभग 40 प्रतिशत लोगों की धमनियां कमजोर है। 20 प्रतिशत महिलाओं को गर्भावस्था के बाद यह परेशानी होती है। इसकी पहचान सही समय पर नहीं हो पाती, जिसका असर वैरिकाज वेंस (varicose veins) के रूप में सामने आता है। पैरों में सूजन व नसों के गुच्छे बनने शुरू हो जाते हैं।

आजकल काफी लोगों में कोलेस्ट्रॉल की प्रॉब्लम देखने को मिल रही है। शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा ज्यादा होने से भी दिल की नाड़ियों में फैट जमा हो जाता है। अगर समय रहते इसका इलाज न करवाया जाए तो इंसान को हार्ट अटैक भी हो सकता है। आज हम आपको बताएंगे कुछ ऐसी चीज़ों के बारे में जिससे आप अपनी डाइट में शामिल करके अपने आपको स्वस्थ रख सकते है।

लौकी कोलेस्ट्रॉल की प्रॉब्लम के लिए बहुत फायदेमंद है। इसके साथ ही यदि रोगी सुबह की सैर करता है तो और भी ज्यादा अच्छा होता है। लौकी को अच्छे से उबाल कर उस में जीरा, हल्दी और हरा धनिया मिक्स करके इसका सेवन करें।

लहसुन में शरीर में मौजूद गंदगी को बाहर निकालता हैं। इसके नियमित सेवन से कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम होता है। हर रोज लहसुन की 1 या 2 कलियो का पानी के साथ सेवन जरूर करें।

एवोकाडो में मौजूद मिनरल्स, विटामिन A, E और C कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल में रखते है। इससे रक्त कोशिकाओं में कोलेस्ट्रॉल जमा नहीं होता और आप ब्लाकेज की समस्या से बचे रहते है।

दूध और आंवला हार्ट ब्लॉकेज के लिए बहुत लाभकारी है। हर रोज 1 गिलास दूध में आधा चम्मच आंवला पाउडर डालकर इसका सेवन करने से आप दिल संबंधित प्रॉब्लम से छुटकारा पा सकते हैं।


 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Tips To Preventing Heart Disease Naturally

More News From life-style

Next Stories
image

free stats