image

जिन लोगों के खून में लौह तत्व IRON की कमी होती है उनसे मच्छरों के जरिए दूसरे लोगों को डेंगू के संक्रमण का खतरा अधिक होता है। एक अध्ययन में यह दावा करते हुए विशेषज्ञों ने बताया कि बीमारी के दौरान लौह तत्वों का सेवन करने वाले रोगी मच्छरों के काटने से होने वाले इस रोग के प्रसार को बढ़ने से रोक सकते हैं। 

विश्व स्वास्थ्य संगठन WHO के अनुसार हर साल डेंगू के करीब 39 करोड़ मामले आते हैं और इसका प्रकोप अब अफ्रीका, अमरीका, दक्षिण पूर्व एशिया तथा प्रशांत क्षेत्र के 100 से अधिक देशों में है। 

नेचर माइक्रोबायोलॉजी पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार डेंगू के जिन रोगियों के रक्त में आयरन का स्तर अधिक होता है उनका रक्त चूसने वाले मच्छरों के जरिए आगे वायरस का संक्रमण होने की आशंका कम होती है।

ऐसा होता है डेंगू: डेंगू बुखार एडीज एजिप्टी प्रजाति के मच्छरों के काटने से होता है।

लक्षण: तेज बुखार, शरीर पर चकत्ते पड़ना और तेज दर्द होना

इलाज न होने पर: डेंगू के कुछ मामलों में रोगी का सही समय पर इलाज नहीं होने से मौत तक हो जाती है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Lack of blood in the body doubles the risk of dengue, due to lack of timely treatment ...

More News From life-style

Next Stories
image

free stats