image

मेलबर्नः उच्च स्तर का इंटरनेट इस्तेमाल मस्तिष्क को इस तरह से परिवर्तित कर सकता है, जिससे हमारा ध्यान, स्मृति और सामाजिक दृष्टिकोण प्रभावित हो सकता है। एक पत्रिका में प्रकाशित एक अनुसंधान में यह बात सामने आयी है कि इंटरनेट, बोध के विशिष्ट क्षेत्रों में सघन एवं दीर्घकालिक परिवर्तन कर सकता है, जिससे मस्तिष्क में परिवर्तन प्रतिबिंबित हो सकते हैं।

अनुसंधानकर्ताओं ने इस संबंध में अग्रणी परिकल्पनाओं की जांच की कि किस तरह से इंटरनेट बोध प्रक्रियाओं को परिवर्तित कर सकता है। अनुसंधानकर्ताओं ने इसके साथ ही इसकी भी पड़ताल की कि ये परिकल्पनाएं किस सीमा तक हाल के मनोवैज्ञानिक, मनोरोग और न्यूरोइमेजिंग अनुसंधान के निष्कर्षों से समर्थित हैं।

आस्ट्रेलिया के वेस्टर्न सिडनी विश्वविद्यालय के जोसेफ फर्थ ने कहा कि इस रिपोर्ट का प्रमुख निष्कर्ष यह है कि उच्च स्तर का इंटरनेट इस्तेमाल मस्तिष्क के कई कार्यों को प्रभावित कर सकता है। फर्थ ने कहा कि उदाहरण के लिए इंटरनेट से प्राप्त होने वाले संदेश हमें अपना ध्यान लगातार उस ओर लगाये रखने के लिए प्रेरित करते हैं। इसके परिणामस्वरुप यह एकल कार्य पर ध्यान बनाये रखने की हमारी क्षमता को कम कर सकता है।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: If You Also Use The Internet More, Read This News First

More News From international

Next Stories

image
free stats