image

चीनी से घाव का इलाज संभव है। क्या आप जानते है ? दरअसल, रोजमर्रा के जीवन में लापरवाही के चलते छोटी-मोटी चोट लगना एक नॉर्मल बात है। लेकिन चोट छोटी या बड़ी नहीं होती, बल्कि चोट, चोट होती है। जिसका सही उपचार न करने पर वह गंभीर समस्‍या बन जाती है। 

चोट लगने या जलने के घाव को भरने के लिए आप कोई उपचार करें या न करें, लेकिन चोट लगते ही शरीर घाव भरने का काम शुरू कर देता है। यानी छोटी-मोटी खरोंचे तो शरीर खुद ही ठीक कर लेता है लेकिन घाव अगर बड़ा हो जाये तो उसको भरने के लिए कुछ उपाय करने की जरूरत होती है... 

इसके प्रयोग के लिए पहले को पहले घाव को अच्छी तरह साबून तथा गर्म पानी की मदद से अच्छी साफ कर लीजिए। फिर घाव को सूखने दीजिए ताकि घाव में बिल्कुल भी नमी न रहे।

अगर घाव बड़ा है तो उस पर पहले शहद लगाना चाहिए फिर चीनी छिड़के ताकि घाव पर चीनी पूरी तरह से टिकी रहे।

बैंडेज की मदद से घाव को ढक लीजिए तथा टेप की मदद से बैंडेज को सुरक्षित रखें, क्योंकि बैंडेज घाव में गंदगी तथा बैक्टीरिया को आने से रोकता है।

जब तक घाव ठीक न हो जाए तब तक बैंडेज को हर रोज बदलना चाहिए और पुराणी चीनी को घाव से हटा कर नई चीनी को घाव पर लगाना चाहिए। 

बैंडेज को धीरे-धीरे निकालने की बजाये एकदम खींच कर निकाले।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: how sugar can heal your wound and injury

More News From life-style

free stats