image

हर कोई दूध पीने के फायदों के बारे में जानता है। दूध पीने से हमारे शरीर में प्रोटीन की  कमी पूरी होती है। पर आजकल हर चीज में मिलावट इतना बढ़ गया है कि शुद्ध चीजों को पहचानना मुश्किल हो गया है। इसी तरह मिलावटी दूध सेहत के लिए बेहद खतरनाक होता है। इसके कारण कई तरह की समस्याएं शुरू होती है। ऐसे में यह बेहद जरूरी है कि मिलावटी दूध की पहचान की जाए। आइए जानते हैं कैसे करें मिलावटी दूध की पहचान

- इसी तरह आयोडीन की मदद से भी दूध की पहचान की जा सकती है। इसके लिए दूध में 4-6 बूंद आयोडीन डालें और देखें। अगर दूध का रंग बदल जाता है जैसे नीला हो जाता है तो समझ लें कि इसमें स्टार्च मिलाया गया है।

- इसी के साथ सिंथेटिक दूध कैमिकल या साबुन आदि मिलाकर बनाया जाता है। इसकी पहचान करने के लिए इसे अंगुलियों के बीच रगड़ेंगे तो साबुन जैसा महसूस होगा और जब गर्म करेंगे तो दूध का रंग पीला हो जाएगा। साथ ही इस दूध का स्वाद भी कड़वा होता है।

- पानी मिले हुए दूध की पहचान करने के लिए किसी ढलान वाले सरफेस पर दूध की बूंध गिराएं और अगर दूध एक लकीर छोड़ता हुआ नीचे गिरता है तो दूध शुद्ध है नहीं तो दूध नकली होगा।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: These losses are caused by consuming adulterated milk

More News From life-style

free stats