image

आयुर्वेद में बहुत सी जड़ी-बूटियों के बारे में बताया जाता है जो हमें खतरनाक बीमारियों से बचाता है और उसके कोई साइडफेक्ट भी नहीं होते। सभी आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों में शामिल है शतावरी। शतावरी के फायदे के बारे में आयुर्वेदिक विशेषज्ञों का मानना है कि यह गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत ही फायदेमंद जड़ी-बूटी है। आधुनिक चिकत्सा विज्ञान में शतावरी के फायदे को देखते हुए इसे सुपर फ़ूड की श्रेणी में रखा गया हैष

शतावरी की संरचना बेल के आकर की झाड़ीनुमा होती है। इसकी जड़ों का उपयोग कई रोगों के इलाज में किया जाता है। शतावरी में विटामिन ए, सी, बी 6 के अलावा फोलेट, कैल्शियम और जिंक की मात्रा बहुत अधिक होती है।

फायदे- 
- पोषक तत्वों से भरपूर शतावरी कई तरह के रोगों के इलाज में काम आती है।

- गठिया और जोड़ों के दर्द दूर करने की यह एक कारगर औषधि मानी जाती है। यहां तक कि कब्ज़ दूर करने से लेकर यौन इच्छा बढ़ाने तक शतावरी के फायदों की सूची काफी लम्बी है।

- इस भागदौड़ भरी तनाव युक्त जिंदगी में कई लोग ठीक से सो नहीं पाते हैं। कुछ लोग तो ऐसे हैं जो सोने की कोशिश भी करते हैं तो घंटों उन्हें नींद नहीं आती है। रात में नींद ना आना भी एक बीमारी है और ऐसा कई दिनों तक होने पर आपको मानसिक रोग हो सकते हैं। आयुर्वेद में शतावरी के गुणों का उल्लेख करते हुए यह बताया गया है कि शतावरी चूर्ण का सेवन अच्छी नींद लाने में मदद करता है।

- पाचन शक्ति के कमजोर होने का मतलब है पेट से जुड़ी कई बीमारियों को न्यौता देना। आयुर्वेद में शरीर को स्वस्थ रखने के लिए पाचन तंत्र के मजबूत होने को सबसे आवश्यक बताया गया है। शतावरी के सेवन से आंतों की कार्य क्षमता बढ़ती है साथ ही यह कब्ज़ को दूर करने में भी मदद करती है। जिसके फलस्वरुप बवासीर जैसी गंभीर रोगों के इलाज में मदद मिलती है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Shatavari benefits for health

More News From life-style

Next Stories
image

free stats