image

एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि एक से अधिक भाई बहन होने की स्थिति में एक बच्चे के अधिक बदमाश अथवा शरारती बनने का जोखिम रहता है। इनमें पहले जन्म लेने वाले बच्चे या बड़े भाई के हिंसक बनने की संभावना अधिक होती है। ब्रिटेन स्थित वारविक विश्वविद्यालय के डीटर वोक ने बताया, भाई बहन की बदमाशी पारिवारिक हिंसक का एक सतत स्वरूप है।

इसे अक्सर माता-पिता और स्वास्थ्य पेशेवर बच्चों के बड़े होने के एक सामान्य तरीके के रूप में देखा जाता है। हालांकि, इस बात के भी प्रमाण बढ़ रहे हैं कि इससे अकेलापन, अवगुण और मानसिक समस्या का लंबे समय तक असर रहता है। डिवैल्पमैंट साइकॉलॉजी में प्रकाशित इस अध्ययन के दौरान ब्रिटेन के 6,838 बच्चों के डाटा का विश्लेषण किया गया है।

अध्ययन में शामिल सभी बच्चों का जन्म या तो 1991 में अथवा 1992 में हुआ है। इन बच्चों को चार श्रेणियों में बांटा गया था। जब बच्चे 5 साल के हुए तो उनकी मां ने बताया कि वे कितनी बार घर में अपराध का शिकार बने अथवा बदमाशी की। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: In the event of more than one sibling, the child born of a first born child is at risk

More News From life-style

IPL 2019 News Update
free stats