image

कमर दर्द की यह समस्या आजकल आम हो गई है। सिर्फ बड़ी उम्र के लोग ही नहीं बल्कि युवा भी कमर दर्द की शिकायत करते रहते हैं। कमर दर्द की मुख्य वजह बेतरतीब जीवनशैली और शारीरिक श्रम न करना है। अधिकतर लोगों को कमर के मध्य या निचले भाग में दर्द महसूस होता है। यह दर्द कमर के दोनों और तथा कूल्हों तक भी फ़ैल सकता है। बढ़ती उम्र के साथ कमर दर्द की समस्या बढ़ती जाती है। नतीजा काम करने में परेशानी । कुछ आदतों को बदलकर इससे काफी हद तक बचा जा सकता है। आज हम आप को बताते हैं कि किन घरेलू नुस्खों को अपनाकर आप कमर दर्द से निजात पा सकते हैं।

*रोज सुबह सरसों या नारियल के तेल में लहसुन की तीन-चार कलियां डालकर (जब तक लहसुन की कलियां काली न हो जाएं) गर्म कर लें। ठंडा होने पर इस तेल से कमर की मालिश करें।

*नमक मिले गर्म पानी में एक तौलिया डालकर निचोड़ लें। इसके बाद पेट के बल लेट जाएं। दर्द के स्थान पर तौलिए से भाप लें। कमर दर्द से राहत पहुंचाने का यह एक अचूक उपाय है।

*कड़ाही में दो-तीन चम्मच नमक डालकर इसे अच्छे से सेंक लें। इस नमक को थोड़े मोटे सूती कपड़े में बांधकर पोटली बना लें। कमर पर इस पोटली से सेक करने से भी दर्द से आराम मिलता है।

*अजवाइन को तवे पर थोड़ी धीमी आंच पर सेंक लें। ठंडा होने पर धीरे-धीरे चबाते हुए निगल जाएं। इसके नियमित सेवन से कमर दर्द में लाभ मिलता है।

*अधिक देर तक एक ही पोजीशन में बैठकर काम न करें। हर चालीस मिनट में अपनी कुर्सी से उठकर थोड़ी देर टहल लें।

*नर्म गद्देदार सीटों से परहेज करना चाहिए। कमर दर्द के रोगियों को थोड़ा सख्त बिस्तर बिछाकर सोना चाहिए।

*योग भी कमर दर्द में लाभ पहुंचाता है। भुजंगासन, शलभासन, हलासन, उत्तानपादासन, शवासन आदि कुछ ऐसे योगासन हैं जोकि कमर दर्द में काफी लाभ पहुंचाते हैं। कमर दर्द के योगासन योगगुरु  की देख-रेख में ही करने चाहिएं।

*कैल्शियम की कम मात्र से भी हड्डियां कमजोर हो जाती हैं, इसलिए कैल्शियमयुक्त चीजों का सेवन करें।

*कमर दर्द के लिए व्यायाम भी करना चाहिए। सैर करना, तैरना या साइकिल चलाना सुरक्षित व्यायाम हैं। तैराकी जहां वजन को कम करती है, वहीं यह कमर के लिए भी लाभकारी है। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: How to get rid of pain in the waist

More News From health-checkup

IPL 2019 News Update
free stats