image

हवा में मौजूद प्रदूषकों से मुक्त कण बनते हैं जो हमारे डीएनए पर सीधा हमला करके त्वचा को पतला और रूखा तो बनाते ही हैं, साथ ही आगे चलकर कैंसर का कारण भी बनते हैं। तो आपको बताएंगे कि कैसे आप अपनी त्वचा को प्रदूषण के नुकसान से बचाने के लिए इसकी सही देखभाल करना ज़रूरी है।

त्वचा को साफ: पूरे शरीर की त्वचा को हमाम जैसे सुरक्षा देने वाले साबुन से अच्छी तरह साफ करने पर त्वचा के छिद्रों में दिन भर जमा हुए मुक्त कणों और धूल से छुटकारा मिल जाता है। इसमें मौजूद नीम, एलो वेरा और तुलसी जैसी प्राकृतिक चीज़ें, त्वचा को सुरक्षा देने के साथ-साथ उसमें नमी बनाए रखने में भी मददगार हैं। रोज़ाना किसी सुरक्षा देने वाले क्लीन्जर से साफ करके त्वचा पर जमा प्रदूषण हटाना बेहद ज़रूरी है।

मॉश्चराइज़ करें: त्वचा को अच्छे से साफ करने के बाद उस पर मॉश्चराइज़र की सुरक्षात्मक परत लगाना भी ज़रूरी है। त्वचा को कोमल बनाए रखने के लिए ऐसे स्किन केयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करें जिनमें त्वचा पर सुरक्षात्मक परत बनाने वाले हाइड्रेटिंग एजेंट मौजूद हों। एक अच्छा मॉश्चराइज़र त्वचा की नमी को बरकरार रखता है जिससे त्वचा का लचीलापन और कोलेजन का उत्पादन बढ़ता है। विटामिन ए युक्त मॉश्चराइज़र, प्रदूषण की वजह से त्वचा की ढलती उम्र पर रोक लगाते हैं। विटामिन सी युक्त सीरम भी प्रदूषण के दुष्प्रभावों से सुरक्षा देते हैं।

एंटीऑक्सिडेंट: एंटीऑक्सिडेंट्स को त्वचा पर लगाने या उन्हें आहार में शामिल करने से त्वचा पर अच्छा असर देखा जा सकता है। एंटीऑक्सिडेंट मुक्त कणों की गतिविधियों को रोकते हैं। त्वचा के लिए सर्वश्रेष्ठ एंटीऑक्सिडेंट हैं विटामिन सी और ई। दिन और रात, दोनों समय इन तत्वों से युक्त सीरम लगाना चाहिए। संतरा, पालक और बादाम जैसे फल और सब्ज़ियां त्वचा की देखभाल में बेहद प्रभावी पाए गए हैं। अगर आपके आहार में विटामिन सी की पर्याप्त मात्रा मौजूद नहीं है तो आप रोज़ाना मल्टीविटामिन खा सकते हैं।

ज़रूरी है उपचार: हफ्ते में एक बार चेहरे पर मास्क लगाना त्वचा के लिए एक बेहतर उपचार साबित हो सकता है, जो त्वचा को प्रदूषण के हानिकारक प्रभावों से सुरक्षा देता है। घर में पपीता, नीम, एलो वेरा और शहद को मिला कर तैयार किया गया मास्क वक्त के साथ त्वचा की खोती नमी को फिर से लौटा सकता है।

भरपूर पानी पिएं: अपनी त्वचा को प्रदूषण के दुष्प्रभावों से बचाने के लिए जो पहला काम आप कर सकते हैं वो है शरीर में नमी को बनाए रखना। बहुत सारा पानी और ग्रीन टी पीने से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है जिससे त्वचा का लचीलापन बढ़ता है।

धूम्रपान से बचें: सिगरेट का धुंआ मुक्त कणों का एक मुख्य स्रोत है जो त्वचा पर समय से पहले झुर्रियां लाने के लिए ज़िम्मेदार हैं। कहने की ज़रूरत नहीं कि आपको इस खराब आदत को आज ही छोड़ देना चाहिए।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: how to protect your skin from pollution

More News From life-style

Next Stories
image

free stats