image

समझदारी से निवेश करना आसान काम नहीं है। इसके लिए धैर्य, निवेश में भरोसा और अपनी गलती मानने जैसी आदतें डालनी पड़ती हैं। निवेश के दौरान कुछ बातों का ध्यान अवश्य रखना चाहिए।  आपको ऐसी ही बातों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें आप निवेश के बिल्डिंग ब्लॉक्स भी कह सकती हैं।

सही लक्ष्य रखें : अपना पैसा किसी भी तरह के निवेश में डालने से पहले अपने लक्ष्य को परिभाषित कर लें। अपने लक्ष्य को तय करने के लिए कई तरीके हो सकते हैं। निवेश से पहले खुद से ये सवाल जरूर करें।
आपकी जोखिम क्षमता कितनी है?
आपको अपने पोर्टफोलियो पर कितना समय बिताना होगा?
आपके शॉर्ट टर्म और लॉन्ग टर्म योजनाएं क्या हैं?
क्या आपका निवेश उद्देश्य अपनी पूंजी को जमा करना और लंबी अवधि में महंगाई को मात देने वाले रिटर्न रेट के साथ बढ़ने वाला होना चाहिए?
इन लक्ष्यों को निर्धारित करने से आप एसेट एलोकेशन तय कर सकती हैं। साथ ही इसके आप अपने पोर्टफोलियो की खरीद व बिक्री की रणनीति भी बना सकती हैं। लेकिन इस बात का भी ध्यान रखें कि आप अपना लक्ष्य समय के अनुसार बदल भी सकती हैं।

घबराएं नहीं : आमतौर पर निवेशक छोटी अवधि में हो रहे नुक्सान को देखकर घबरा जाते हैं। ऐसी स्थिति में अपने स्वभाव पर नियंत्रण रखना आना चाहिए। कई निवेशक बाहरी संकेत जैसे कि न्यूज पेपर, टी.वी. चैनल्स पर चलाई गईं खबरों और वर्ड ऑफ माऊथ के आधार पर अपनी निवेश रणनीति बदल लेते हैं। बाजार में हलचल दो कारणों से होती है पहला डर और दूसरा लालच। आपको अपनी निवेश रणनीति पर भरोसा रखना चाहिए और शांत रहना चाहिए। इस चीज को स्वीकार करें कि बाजार की प्रवृत्ति अस्थिर होती है। ऐसे में इस अस्थिरता को लाभ उठाना सीखें।

अच्छा फाइनैंशियल एडवाइजर हायर करें : ऐसा न सोचिए कि आप सब कुछ कर सकते हैं, अपनी मेहनत की कमाई को अच्छे से मैनेज करने और निवेश पर बेहतर रिटर्न पाने के लिए वित्तीय सलाहाकार की मदद जरूर लें। ये अपनी फील्ड में ट्रेंड होते हैं। साथ इनके पास वर्षो का अनुभव होता है। ये अपने क्षेत्र में फुल टाइम काम करते हैं। यह बाजार पर नजर बनाएं रखे होते हैं। इन्हें किसी भी आम निवेशक की तुलना में निवेश और उसके मैनेजमैंट के बारे में ज्यादा पता होता है।

समझदारी से करें एसेट एलोकेशन : अपने पोर्टफोलियो को डायवर्सिफाई करें। बाजार में कई निवेश विकल्प मौजूद हैं। लेकिन हर विकल्प का अपना रिस्क फैक्टर है। अधिकांश लोग निवेश में कई गलतियां कर देते हैं। एसेट एलोकेशन एक ऐसी स्ट्रैटेजी है जिसके जरिए आप न सिर्फ सही एसेट क्लास का चुनाव करते हैं बल्कि यह आपके निवेश को भी उचित तरह से मैनेज करता है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: These essential things should be taken care of before investing

More News From life-style

IPL 2019 News Update
free stats