image

आमतौर पर डांस व म्यूजिक को एंटरटेनमैंट इंडस्ट्री से जोड़कर देखा जाता है, लेकिन यह महज मनोरंजन प्रदान करने और क्षेत्रीय संस्कृति को बढ़ावा देने तक ही सीमित नहीं है। इसका हर व्यक्ति के साथ एक अलग ही भावनात्मक जुड़ाव होता है और इसलिए आज के समय में संगीत और नृत्य को कई तरह की बीमारियों के उपचार के लिए इस्तेमाल किया जाता है। अगर आप भी चाहें तो बतौर डांस थैरेपिस्ट बनकर लोगों को रोगमुक्त करने में अपनी सक्रि य भूमिका निभा सकते हैं और एक शानदार करियर बना सकते हैं।

क्या होता है काम
एक डांस थैरेपिस्ट का मुख्य काम डांस थैरेपी का इस्तेमाल करके शरीर को पूर्ण रूप से तनावमुक्त करते हैं। वह व्यक्ति की आवश्यकता को समझते हुए उन्हें कुछ ऐसे मूवमैंट बताता है, जिससे उसे यकीनन फायदा पहुंचता है। दूसरे शब्दों में, एक प्रोफैशनल डांस थैरेपिस्ट पेंशेट का स्वास्थ्य डांस स्टैप और मूवमैंट के जरिए सुधारता है। हालांकि डांस का प्रकार कोई भी हो सकता है। एक डांस थैरेपिस्ट व्यक्ति में अच्छे कम्युनिकेशन स्किल्स से लेकर सामाजिक व्यवहार संबंधी परेशानियों को दूर करने में अहम भूमिका निभा सकता है। 

स्किल्स
इस क्षेत्र में करियर देख रहे छात्रों में अपने काम के प्रति लगाव व दूसरों की मदद करने की चाह होनी चाहिए। यह क्षेत्र यकीनन काफी मजेदार है, लेकिन इसमें आपको शारीरिक रूप से भी मेहनत करनी पड़ती है, इसलिए आपको उसके लिए तैयार रहना पड़ेगा। काम के दौरान आपको कई तरह के क्लाइंट्स से मिलकर उनकी समस्या को सुनना होगा और उसी के अनुरूप अपना काम करना होगा, इसलिए बेहतर कम्युनिकेशन स्किल भी इस क्षेत्र की एक डिमांड है।

योग्यता
एक डांस थैरेपिस्ट बनने के लिए सबसे पहले आपको डांस के अलग-अलग प्रकार की व्यापक जानकारी होनी चाहिए। आजकल कुछ संस्थान डांस थैरेपी में सर्टीफिकेट व डिप्लोमा कोर्स करवाते हैं, आप उन कोर्स को कर सकते हैं लेकिन उसके लिए पहले आपके पास बैचलर डिग्री होनी जरूरी है। 

संभावनाएं
डांस थैरेपिस्ट का कोर्स करने के बाद व्यक्ति के पास काम की कोई कमी नहीं होती। आप विभिन्न एनजीओ से लेकर स्पैशल स्कूल्स, अस्पताल, नशा मुक्ति केन्द्र, वृद्धाश्रम, शिक्षण संस्थान में भी अपनी सेवाएं दे सकते हैं। एक डांस थैरेपिस्ट विभिन्न मैंटली व फिजिकली चैलेंज व्यस्क, स्पैशल जरूरतों वाले बच्चों तथा महिलाओं के साथ काम करता है। वैसे आप चाहें तो खुद भी सैंटर खोलकर लोगों की मदद कर सकते हैं।

आमदनी
अगर आमदनी की बात की जाए तो इस क्षेत्र में आमदनी से ज्यादा व्यक्ति दूसरों की मदद करके सुख का अनुभव करता है। वैसे डांस थैरेपी में मास्टर की डिग्री प्राप्त करने के बाद व्यक्ति सालाना 25 से 30 लाख रुपए आसानी से कमा सकता है। 

प्रमुख संस्थान
* क्रिएटिव मूवमैंट थैरेपी एसोसिएशन इन इंडिया, दिल्ली
* टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंस, मुंबई
* सृष्टि सैंटर ऑफ परफार्मिग आर्ट्स एंड इंस्टीट्यूट ऑफ डांस थैरेपी, दिल्ली।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Become a dance therapist, treat yourself through twitching steps, know what happens

More News From career

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats