image

इस्लामाबादः पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को कहा कि अमेरिका में 9/11 हमले के बाद ‘‘इस्लाम के खिलाफ नफरत’’ में इजाफा न्यूजीलैंड में दो मस्जिदों पर हुए हमले के लिए जिम्मेदार है। इस हमले में कम से कम 49 लोग मारे गए। न्यूजीलैंड में मस्जिदों पर आतंकवादी हमले की ‘‘कड़ी निंदा’’ करते हुए प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया हैं कि यह उसी बात को दोहराता है जो हम हमेशा कहते हैं कि आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता। पीड़िताें और उनके परिवार के प्रति संवेदनाएं।

यहां पढ़ें...  संरा ने कर्मियों को बोइंग 737 मैक्स 8 से यात्रा न करने का दिया निर्देश

यहां पढ़ें... सुरक्षा बलाें ने दाे दिन के संयुक्त अभियान में 55 आतंकवादी किए ढेर

मध्य व्राइस्टचर्च स्थित मस्जिद अल नूर में जब हमला हुआ, तब नमाज पढ़ने के लिए बड़ी संख्या में लोग वहां मौजूद थे। उपनगर लिनवुड स्थित एक अन्य मस्जिद में हमला हुआ। हमलों में कम से कम 49 लोग मारे गए। खान ने कहा कि 9/11 हमले के बाद इस्लाम के खिलाफ नफरत की भावना बढ़ना आतंकवाद के इस कृत्य के लिए जिम्मेदार है और मुसलमानों को जान-बूझ कर खलनायक बनाया गया। उन्होंने कहा कि मैं 9/11 के बाद इस्लाम के खिलाफ नफरत की भावना बढ़ने को इन आतंकवादी हमलों के लिए जिम्मेदार ठहराता हूं।

यहां पढ़ें... अमेरिकी सांसद ने मसूद को वैश्विक आतंकवादी घोषित नहीं किए जाने पर जाहिर की ‘निराशा

यहां पढ़ें... पुलवामाः आतंकवादियों ने एक व्यक्ति की गोली मारकर की हत्या

9/11 हमले के बाद इस्लाम और 1.3 अरब मुसलमानों को किसी भी मुसलमान द्वारा आतंकवाद के किसी भी कृत्य के लिए जिम्मेदार ठहराया गया। मुसलमानों के वैध राजनीतिक संघर्षों को नकारात्मक दिखाने के लिए भी जान-बूझ कर यह किया गया। विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भी कड़े शब्दों में इस हमले की निंदा की हैं। उन्होंने ‘‘नृशंस हमले में निदरेष लोगों की मौत पर दुख जताया। विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मुहम्मद फैसल ने ट्वीट किया कि पाकिस्तान उच्चयोग हमलों के बारे में और जानकारी का पता लगाने के लिए न्यूजीलैंड में स्थानीय अधिकारियों के लगातार संपर्क में है।

 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: ‘Islamophobia’ After 9/11 For Attack On Mosques: Imran Khan

More News From international

IPL 2019 News Update
free stats