image

 

वाशिंगटनः अफगानिस्तान की एक शीर्ष राजदूत ने कहा है कि कश्मीर के हालात को अफगानिस्तान में शांति समझौते के लिए जारी प्रयासों से जोड़ाना, ‘‘दुस्साहसी, अनुचित और गैर-जिम्मेदाराना’ है। अमेरिका में अफगानिस्तान की राजदूत रोया रहमानी ने कहा कि ‘इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ अफगानिस्तान’ अमेरिका में पाकिस्तान के राजदूत असद मजीद खान के उस दावे पर कठोरता से सवाल उठाता है कि कश्मीर में जारी तनाव अफगानिस्तान की शांति प्रक्रिया को काफी प्रभावित कर सकता है।’’

Read More अपनी बात पर अड़ा पाकिस्तान, इन सेवाओं को बहाल करने से किया इंकार

Read More इमरान खान ने अब Twitter का लिया सहारा, इस मामले में अंतरराष्ट्रीय समुदाय से किया आग्रह

उन्होंने कहा कि ऐसा कोई बयान जो कश्मीर के हालात को अफगान शांति प्रयासों से जोड़ता है वह दुस्साहसी, अनुचित और गैर-जिम्मेदाराना है। कश्मीर को भारत और पाकिस्तान का द्विपक्षीय मामला बताते हुए रहमानी ने कहा कि उनके देश का मानना है कि कश्मीर मुद्दे से अफगानिस्तान को जानबूझकर जोड़ने का पाकिस्तान का मकसद अफगान की धरती पर जारी हिंसा को और बढ़ाना है।

Read More FATF को गुमराह करने के लिए अब पाकिस्तान ने चली ये नई चाल

Read More ईएफपी की पाक सरकार से अपील, भारतीय सामानों को बाजार तक पहुंचाने की दें अनुमति

रहमानी ने कहा कि उनके पाकिस्तानी समकक्ष का बयान उन सकारात्मक और रचनात्मक मुलाकात के ठीक विपरीत है जो अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी की हालिया यात्रा के दौरान उनके पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान तथा पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा के बीच हुई थी।

 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Afghan Ambassador Gives A Befitting Reply To PAK Ambassador, This Type Of Speech Closed

More News From international

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats