image

   छठे दौर की चीन-अमेरिका उच्च स्तरीय व्यापार वार्ता 15 फरवरी को पेइचिंग में संपन्न हुई। दोनों पक्षों ने मुख्य मुद्दों पर सैद्धांतिक आम सहमति प्राप्त की और द्विपक्षीय आर्थिक व्यापारिक मुद्दों पर ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। विद्वानों के विचार में चीन और अमेरिका के बीच समझौते पर हस्ताक्षर करने से वैश्विक अर्थतंत्र को लाभ मिलेगा।  

   14 से 15 फरवरी तक चीनी और अमेरिकी प्रतिनिधियों ने तकनीकी हस्तांतरण, बौद्धिक संपदा अधिकार संरक्षण, गैर-टैरिफ बाधा, सेवा उद्योग, कृषि, व्यापार संतुलन और कार्यान्वयन व्यवस्था आदि समान रुचि वाले विषयों पर और चीन की चिंता वाले मुद्दों पर गहन रूप से विचार विमर्श किया। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ़) के पूर्व उप महानिदेशक, छिंगहुआ विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय वित्त अनुसंधान संस्थान के प्रधान चू मिन के विचार में वार्ता करना तो अच्छी शुरुआत है। वार्ता में कुछ फल प्राप्त हुए और संधि पर हस्ताक्षर हुए, यह दोनों पक्षों की समान कोशिश का नतीजा है। दोनों के बीच मतभेद फिर भी मौजूद है, लेकिन यह कोई बात नहीं है। क्योंकि व्यापार हमेशा वार्ता से ही होता है। वार्ता करना तो अच्छी बात है। अमेरिका को लगता है कि वार्ता के माध्यम से मामले का निपटारा किया जाएगा, तो दोनों पक्ष अधिक घनिष्ठ रूप से वार्ता करेंगे। यह अच्छी बात भी है।  

  वहीं चीन में अमेरिकी वाणिज्य संघ के अध्यक्ष श्या चुनअन के विचार में नियम के प्रति चीन और अमेरिका की अलग-अलग समझ है, जिससे कई सवाल पैदा हुए। हमें नियम को और स्पष्ट करना चाहिए। अगर विवाद का समाधान कर दोनों पक्षों के आर्थिक व्यापारिक संबंध में प्रभाव न पड़े, तो विश्व अर्थतंत्र को भी लाभ मिलेगा।  

  मौजूदा व्यापार वार्ता की समाप्ति पर चीन और अमेरिका ने तय किया के अगले हफ्ते वाशिंगटन में लगातार परामर्श करेंगे। इसकी चर्चा करते हुए चीनी विकास अनुसंधान कोष के महासचिव लू माई ने विश्वास जताया कि वार्ता का भविष्य उज्ज्वल होगा अनिश्चितता को कम करना लोगों की प्रतिक्षा है। वार्ता में अंतिम नतीजे की प्राप्ति के लिए समय लगेगा, रास्ता फिर भी लम्बा होगा। चीन अपने रास्ते पर आगे बढ़ रहा है। लोगों के सामने अवश्य ही उज्ज्वल भविष्य नज़र आएगा।

(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)


 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: The world will benefit from the acquisition of theoretical agreement China and America

More News From international

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats