image

तेहरानः ईरान के राष्ट्रपति हसन रुहानी ने न्यूजीलैंड नरसंहार में 49 नमाजियों के मारे जाने और कई लोगों के घायल होने के बाद पश्चिमी सरकारों पर ‘‘इस्लामोफाबिया’’ को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है। सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर शुक्रवार को जारी एक बयान में रुहानी ने कहा कि गोलीबारी दर्शाती है कि ‘‘ कुछ पश्चिमी सरकारें दुर्भाग्यवश पश्चिम में इस्लामोफोबिया इस्लाम से डरी को बढ़ावा दे रही हैं, जिसका हम सबको मिलकर मुकाबला करने की आवश्यकता है।

यहां पढ़ें...  संरा ने कर्मियों को बोइंग 737 मैक्स 8 से यात्रा न करने का दिया निर्देश

इस बीच, अंकारा ने हमलावर के कई बार तुर्की आने के संबंध में अपनी जांच शुरु कर दी है। तुर्की के एक अधिकारी ने बिना तारीख बताए कहा कि मामले में गिरफ्तार ऑस्ट्रेलियाई कई बार तुर्की आया और लंबे समय तक यहां रहा। नाम उजागर न करने की शर्त पर अधिकारी ने कहा कि हमें लगता है कि संदिग्ध संभवत: अन्य देशों यूरोप, एशिया और अप्रीका भी गया था। हम संदिग्ध की गतिविधियों और देश में उसके संबंधों का पता लगा रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया में जन्मे ब्रेंटन टारेंट 28 ने शुक्रवार को न्यूजीलैंड के व्राइस्टचर्च में दो मस्जिदों में गोलीबारी कर 49 लोगों को मौत के घाट उतार दिया था।

यहां पढ़ें...  अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने को लेकर चीन के साथ ये देश कर रहे हैं वार्ता

 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: New Zealand Attack: Iran Charged Western Governments For Promoting 'Islamophobia'

More News From international

IPL 2019 News Update
free stats