image

लंदनः विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा है कि पाकिस्तान आतंकवाद का खुलेआम इस्तेमाल कर रहा है और जब तक वह इसकी वित्तीय मदद तथा आतंकी समूहों की भर्ती पर रोक नहीं लगाता तब तक उसके साथ बातचीत की कोई गुंजाइश नहीं है। जयशंकर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा हाल में कश्मीर मुद्दे पर एक समाचार पत्र में लिखे गए एक लेख का जवाब दे रहे थे। लेख में खान ने लिखा है कि बातचीत तत्काल किए जाने की आवश्यकता है क्योंकि दक्षिण एशिया पर परमाणु हमले का खतरा मंडरा रहा है।

ब्रसेल्स में ‘पॉलिटिको’ को दिए एक साक्षात्कार में जयशंकर ने कहा कि पाकिस्तान जब ‘‘खुलेआम आतंकवाद का इस्तेमाल कर रहा है’’ तो बातचीत का विचार बेकार है। उन्हाेंने कहा कि उन्हें खान द्वारा शुक्रवार को लिखा गया लेख पढ़ने का समय नहीं मिल पाया है। उन्होंने कहा कि जब तक पाकिस्तान आतंकवाद की वित्तीय मदद और आतंकी समूहों की भर्ती पर रोक नहीं लगाता तब तक बातचीत की कोई उम्मीद नहीं है।

उन्होंने कहा कि आतंकवाद कोई ऐसी चीज नहीं है जो पाकिस्तान में अंधेरे कोनों में की जा रही हो। यह दिनदहाड़े किया जाता है। पाकिस्तानी आतंकवादियों द्वारा जनवरी 2016 में पठानकोट वायुसेना स्टेशन पर हमला किए जाने के बाद से पाकिस्तान से भारत बात नहीं कर रहा है। भारत का कहना है कि बातचीत और आतंकवाद साथ-साथ नहीं चल सकते।

भारतीय शुल्क पर ट्रंप के कड़े होते रुख के बारे में चर्चा करते हुए मंत्री ने कहा कि भारत समझौते के मूड में है। जयशंकर ने कहा कि किसी भी संबंध की तरह, लेन और देन होता है। हमारी उम्मीद यह है कि हमारे व्यापार मंत्री निकट भविष्य में साथ बैठेंगे। मेरा मानना है कि इनमें से कई मुद्दे समाधान के लिए तैयार हैं।उन्होंने कहा कि ऊर्जा की चाहत वाले भारत की ईरानी तेल खरीदने की इच्छा ‘‘नि:संदेह जटिल’’ है और वह ‘‘व्यापक स्पष्टता’’ की उम्मीद करते हैं।

 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Jaishankar Said - Pakistan Is Openly Using Terrorism, There Is No Scope For Dialogue

More News From international

Next Stories
image

free stats