image

व्राइस्टचर्चः न्यूजीलैंड पुलिस ने शुव्रवार को यहां दो मस्जिदों में गोलीबारी के संबंध में चार लोगों को हिरासत में लिया है और कई आईईडी बरामद किए हैं। पुलिस आयुक्त माइक बुश ने कहा कि चार लोगों को हिरासत में लिया गया है। इनमें से तीन पुरुष हैं और एक महिला है। उन्होंने कहा कि हमलावरों के वाहनों से जुड़े संदिग्ध आईईडी पाए गए हैं। सेना ने उन्हें निष्क्रिय कर दिया है। इस बीच, पुलिस ने शहर के स्कूलों से लॉकडाउन हटा दिया है। स्कूलों में किसी के अंदर या बाहर जाने पर प्रतिबंध लग गया था। लॉकडाउन हटने के बाद घबराए हुए अभिभावक अपने बच्चों को लेने स्कूल पहुंचे। न्यूजीलैंड पुलिस ने एक बयान में कहा कि पुलिस अब यह पुष्टि कर सकती है, कि व्राइस्टचर्च में सभी स्कूलों पर लगा लॉकडाउन हटा दिया गया है। इस बीच पुलिस ने गोलीबारी संबंधी कोई भी वीडियो साझा नहीं करने की चेतावनी दी है।

यहां पढ़ें... अमेरिकी सांसद ने मसूद को वैश्विक आतंकवादी घोषित नहीं किए जाने पर जाहिर की ‘निराशा

दरअसल, ऑनलाइन मौजूद एक वीडियो में एक बंदूकधारी मस्जिद में लोगों पर गोली चलाते समय वीडियो बनाते दिख रहा है। पुलिस ने ट्वीट किया हैं कि पुलिस जानती है कि व्राइस्टचर्च में हुई घटना के संबंध में एक बहुत ही तकलीफदेह वीडियो ऑनलाइन साझा किया जा रहा है। हम अपील करेंगे कि यह लिंक साझा नहीं किया जाए। हम फुटेज हटाने की कोशिश कर रहे हैं। एएफपी को ‘यूट्यूब’ पर मिली वीडियो की प्रति में छोटे बालों वाला एक व्यक्ति मस्जिद की ओर वाहन चलाकर जाते दिख रहा है। व्यक्ति की दाढी-मूंछ नहीं है. मस्जिद में घुसते ही वह गोलीबारी करता है, जिस फेसबुक और ट्विटर अकाउंट से वीडियो पोस्ट की गई थी, उन्हें निलंबित कर दिया गया है। घटना से दु:खी रग्बी खिलाड़ी सोनी बिल विलियम्स ने एक भावुक वीडियो साझा करके कहा कि अभी यह समाचार सुना। मैं शब्दों में बयान नहीं कर सकता कि मैं इस समय क्या महसूस कर रहा हूं।

यहां पढ़ें... पुलवामाः आतंकवादियों ने एक व्यक्ति की गोली मारकर की हत्या

उन्होंने कहा कि आज जिनकी भी मौत हुई है इंशाअल्लाह, उन सभी को जन्नत नसीब हो।न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न ने इस गोलीबारी को ‘‘न्यूजीलैंड के सबसे काले दिनों में से एक’’ बताया। मस्जिदों में दोपहर को जब हमला हुआ, उस समय लोगों की भीड़ वहां जुम्मे की नमाज के लिए एकत्र थी और बांग्लादेश व्रिकेट टीम के सदस्य वहां पहुंच रहे थे। स्थानीय मीडिया ने बताया कि कम से कम नौ लोगों की मौत हो गई है. पुलिस हमलावर को पकड़ने की कोशिश कर रही है जो अब भी ‘‘सक्रिय’’ है। पुलिस आयुक्त माइक बुश ने कहा कि स्थिति लगातार बदल रही है और हम तथ्यों की पुष्टि के लिए काम कर रहे हैं। हम यह पुष्टि कर सकते हैं कि कई लोगों की मौत हुई है। अर्डर्न ने कहा कि वह मृतकों की संख्या की पुष्टि करने में सक्षम नहीं हैं। स्थिति अभी पूरी तरह स्पष्ट नहीं है।

यहां पढ़ें...  संरा ने कर्मियों को बोइंग 737 मैक्स 8 से यात्रा न करने का दिया निर्देश

उन्होंने कहा कि यह स्पष्ट है कि यह न्यूजीलैंड के सबसे काले दिनों में से एक है। अर्डर्न ने कहा कि यहां स्पष्ट रुप से जो हुआ, वह हिंसा की इंतेहाई बुरी वारदात है। मध्य व्राइस्टचर्च स्थित मस्जिद अल नूर में जब हमला हुआ, तब नमाज पढ़ने के लिए बड़ी संख्या में लोग वहां मौजूद थे। उपनगर लिनवुड स्थित एक अन्य मस्जिद में हमला हुआ। मस्जिद में मौजूद एक फलस्तीनी व्यक्ति ने बताया कि उसने एक व्यक्ति के सिर में गोली लगती देखी। उसने कहा कि मुझे लगातार तीन गोलियों की आवाज सुनाई दी और मुश्किल से 10 सेकंड बाद ही फिर से ऐसा हुआ। हमलावर के पास संभवत: स्वचालित हथियार होगा क्योंकि कोई इतनी जल्दी ट्रिगर नहीं दबा सकता। हमले के समय डीन अवे मजिस्द में नमाज पढ़ रहे एक अन्य प्रत्यक्षदर्शी ने कहा कि उसने बाहर अपनी पत्नी का शव फुटपाथ पर पड़ा देखा। लोग भाग रहे थे। कुछ लोग खून से सने थे।

यहां पढ़ें... सुरक्षा बलाें ने दाे दिन के संयुक्त अभियान में 55 आतंकवादी किए ढेर

एक अन्य व्यक्ति ने कहा कि उसने बच्चों पर गोलियां चलती देखीं। ‘‘मेरे चारों ओर शव थे। एक प्रत्यक्षदर्शी ने ‘रेडियो न्यूजीलैंड’ को बताया कि उसने गोलीबारी सुनी और चार लोग जमीन पर पड़े थे और ‘‘हर तरफ खून’’ था। अपुष्ट खबरों के अनुसार, हमलावर ने सेना की वर्दी जैसे कपड़े पहने हुए थे। मृतकों की संख्या को लेकर कोई आधिकारिक सूचना नहीं मिली है, लेकिन बांग्लादेश की क्रिकेट टीम के प्रवक्ता ने बताया कि कोई खिलाड़ी हताहत नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि वे सुरक्षित हैं, लेकिन वे सदमे में हैं। हमने टीम से होटल में रहने को कहा है। उन्होंने बताया कि पूरी टीम को बस में बिठाकर मस्जिद लाया गया था और जब गोलीबारी हुई, तब टीम मस्जिद में प्रवेश करने ही वाली थी।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Firing In New Zealand: 4 People Detained, IED Recovered

More News From international

free stats