image

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के 42वें सम्मेलन के दौरान जिनेवा स्थित चीनी प्रतिनिधिमंडल ने 18 सितंबर को हांगकांग:वास्तविकता व सच्चाई नामक एक बैठक आयोजित की। संबंधित विशेषज्ञों ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को हांगकांग के वास्तविक स्थिति का परिचय दिया। विशेषज्ञों ने कहा कि हांगकांग को तेजी से हिंसा खत्म करने की आवश्यकता है।

छिंगह्वा विश्वविद्यालय के हांगकांग व मकाओ अनुसंधान केंद्र के अध्यक्ष वांग चेनमिन ने भाषण देते समय कहा कि हांगकांग के चीन में वापस लौटने के बाद हांगकांग लोगों को मिले अधिकार व मुक्ति, कानून व लोकतांत्रिक अधिकार पहले से बहुत बढ़ गए हैं। वर्तमान में समस्या यह है कि हांगकांग में मानवाधिकार व मुक्ति का गंभीर रूप से दुरूपयोग किया जा रहा है। इसलिये अब सबसे जरूरी कार्य हिंसा को खत्म करना है। 

शनचन विश्वविद्यालय के हांगकांग व मकाओ के बुनियादी कानून अनुसंधान केंद्र के अध्यक्ष ज़ो फिंगश्वेए ने उपस्थित प्रतिनिधियों को हांगकांग के रास्ते में हिंसक कार्रवाई की फोटो दिखायी। उन के अनुसार बीते तीन महीनों में हांगकांग में हुई हिंसक कार्रवाई एक लोकतांत्रिक आंदोलन नहीं है, उसने गंभीर रूप से कानून को बर्बाद किया, समाज की स्थिरता व जनता के वैध अधिकारों व लाभ को नुकसान पहुंचाया है। 

(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)

 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Violence ends in Hong Kong जल्दी expert

More News From china

Next Stories
image

free stats