image

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 5 जुलाई को त्याओयूटाई राज्य अतिथिगृह में बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना से मुलाकात की।

 शी चिनफिंग ने कहा कि चीन और बांग्लादेश पारंपरिक दोस्ताना पड़ोसी हैं। जब वर्ष 2016 में मैंने बांग्लादेश की राजकीय यात्रा की थी, तो मैंने दोनों देशों के बीच संबंध को एक रणनीतिक साझेदारी में बदल दिया और द्विपक्षीय आदान-प्रदान और सहयोग को एक नए चरण में बढ़ावा दिया। अपने-अपने देशों के आर्थिक और सामाजिक विकास में नई गति लाने के साथ-साथ दोनों देशों के लोगों को भी अधिक लाभ पहुंचा। वर्तमान में, चीन और बांग्लादेश अपने संबंधित विकास के महत्वपूर्ण चरण में हैं। सामरिक भागीदारी को मज़बूत बनाना न केवल दोनों देशों और लोगों के साझा हितों में है, बल्कि एशिया की समृद्धि और स्थिरता के साथ दुनिया के खुले सहयोग के लिये भी अनुकूल है।

शी चिनफिंग ने इस बात पर ज़ोर दिया कि दोनों पक्षों को पारंपरिक मित्रता को आगे बढ़ाना चाहिये और दोनों देशों के बीच आम सहयोग और विकास को बढ़ाने के लिये पूरी कोशिश करना है।

हमें दोनों देशों की सरकारों, विधायिकाओं और राजनीतिक दलों के बीच आदान-प्रदान बनाए रखना चाहिए, द्विपक्षीय संबंधों पर संवाद मज़बूत करना चाहिए और आम सहमति का निर्माण करना चाहिए। बांग्लादेश चीन के मूल हितों से जुड़े मुद्दों पर अपना बहुमूल्य समर्थन करता रहा है, चीन इसकी सराहना करता है। हमेशा की तरह, हम बांग्लादेश को अपनी संप्रभुता और संप्रभुता की रक्षा करने के लिए मज़बूत समर्थन देंगे। चीन और बांग्लादेश के बीच सहयोग की व्यापक संभावनाएं हैं। चीन शिक्षा, संस्कृति, युवाओं और मीडिया जैसे क्षेत्रों में बांग्लादेश के साथ आदान-प्रदान और सहयोग को मज़बूत करेगा। साथ ही बांग्लादेश की आतंकवाद विरोधी और कानून प्रवर्तन क्षमता निर्माण का समर्थन करना जारी रखना चाहता है।

हसीना ने चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की स्थापना की 98वीं वर्षगांठ और चीन लोक गणराज्य की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ पर हार्दिक बधाई दी। साथ ही शी चिनफिंग के नये युग में चीनी विशेषता वाले समाजवादी विचार के मार्गदर्शन में चीन द्वारा हासिल नई उपलब्धियों पर भी बधाई दी गयी। बांग्लादेश दोनों देशों के नेताओं की पुरानी पीढ़ी द्वारा बनाए गए दोस्ताना संबंधों को पोषित करता है। बांग्लादेश एक-चीन नीति का दृढ़ता से समर्थन करता है और चीन के बहुमूल्य समर्थन के लिए धन्यवाद देता है। बांग्लादेश राष्ट्रपिता मुजीबुर्रहमान द्वारा प्रस्तुत“स्वर्णिम बंगाल”के सपने को पूरा करने की प्रक्रिया में है। इस दौरान हम चीन से समर्थन पाने के लिए आगे देख रहे हैं। बांग्लादेश, गृह शासन में चीन के अनुभव से सीखना चाहता है और बांग्लादेश-चीन-भारत-म्यांमार आर्थिक गलियारे के निर्माण को बढ़ावा देने के लिए " बेल्ट एंड रोड" में सक्रिय रूप से भाग ले रहा है।

(साभार—चाइना रेडियो इंटरनेशनल ,पेइचिंग)

 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Shi Jinping meets Bangladeshi Prime Minister Sheikh Hasina

More News From china

Next Stories
image

free stats