image

 

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने 18 सितंबर के दोपहर को मॉस्को के क्रेमलिन में चीनी प्रधानमंत्री ली खछ्यांग से मुलाकात की।

सबसे पहले ली खछ्यांग ने चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की तरफ से पुतिन को अभिवादन पहुंचाया। ली खछ्यांग ने कहा कि चीन और रूस एक दूसरे का सबसे बड़े पड़ोसी देश हैं, 2019 में दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंध स्थापना की 70वीं वर्षगांठ है। कुछ समय पहले दोनों देशों के नेताओं ने चीन और रूस नए युग में नई रणनीतिक सहयोग साझेदारी बनाने पर आम सहमति प्राप्त की है। ली खछ्यांग ने इस बार रूस की यात्रा के दौरान रूसी प्रधानमंत्री दिमित्री मेदवेदेव के साथ चीन और रूस के प्रधानमंत्रियों के बीच 24वीं नियमित बैठक में दोनों देशों के बीच विभिन्न क्षेत्रों में आदान-प्रदान और सहयोग बढ़ाने के लिए चर्चा की।

ली खछ्यांग ने यह भी कहा कि चीन और रूस के बीच सहयोग का भविष्य उज्जवल है, चीन एक पट्टी एक मार्ग सुझाव और यूरेशियन इकोनॉमिक यूनियन के आधार पर द्विपक्षीय व्यापार बढ़ाएगा। इसके साथ ही चीन अपनी बाजार के खुलापन को विस्तार करेगा, ताकि रूस सहित और ज्यादा देशों की कंपनियों को मौके मिल सकें। हमें उम्मीद है कि चीन और रूस एक दूसरे के लिए खुलेपन का विस्तार कर सकते हैं। इससे दोनों की कंपनियों के लिए और ज्यादा सहयोग करने के मौके मिलेंगे। 

पुतिन ने चीन स्थापना की 70वीं वर्षगांठ पर बधाई दी। उन्होंने कहा कि चीन रूसी कूटनीति की प्राथमिकता है। दोनों के बीच राजनयिक संबंध स्थापना के 70 सालों में दोनों के बीच संबंध और सहयोग में बड़ी उपलब्धियाँ हासिल हुई हैं। इस बार की चीन और रूस के प्रधानमंत्रियों की 24वीं नियमित बैठक में दोनों के बीच कई नई उपलब्धियाँ हासिल हुई हैं, दोनों के बीच सामरिक सहयोग भी बढ़ाया गया है। रूस अपनी विकास रणनीति और एक पट्टी एक मार्ग सुझाव के आधार पर द्विपक्षीय व्यापार बढ़ाएगा, ताकि दोनों देश एक साथ विकास कर सकें।

(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Putin met Lee Khayang

More News From china

Next Stories
image

free stats