image

चीन लोक गणराज्य की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ, तिब्बत स्वायत्त प्रदेश में लोकतांत्रिक सुधार की 60वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में“समान दिल का निर्माण”शीर्षक बड़े बैमाने वाली चिकित्सीय सेवा गतिविधि 26 मई को ल्हासा में शुरु हुई। पेइचिंग के करीब सौ चिकित्सीय संस्थाओं के 300 से अधिक चिकिस्तीय स्वयंसेवक इस गतिविधि के तहत तिब्बत के विभिन्न स्थलों में किसानों और चरवाहों की चिकित्सीय सेवा देंगे।

   26 मई को इस गतिविधि की शुरुआती रस्म के बाद स्वयं सेवकों ने छह ग्रुपों में शामिल होकर ल्हासा, शिकाजे और न्यिंग-ची आदि शहरों और कांउटियों में चिकित्सीय सेवा शुरु की। आने वाले 7 दिनों में वे शहर, काउंटी, कस्बे आदि स्तरीय अस्पतालों, मठों और सामाजिक कल्याण संस्थाओं में जाएंगे, जहां स्थानीय लोगों और चिकित्सीय कर्मचारियों के लिए बीमारी की जांच, ओपरेशन, जन्मजात हृदय रोग की जांच, स्वास्थ्य से जुड़ी वैज्ञानिक शिक्षा और चिकिस्तीय पेशेवर तकनीक प्रशिक्षण आदि गतिविधियां चलाएंगे।

   26 मई को दोपहर बाद, पेइचिंग विश्वविद्यालय के अंतरराष्ट्रीय अस्पताल के चिकित्सकों से गठित एक दल ने शिकाज़े शहर की रनपू काउंटी में स्थित छ्यांगछिन मठ में मुफ्त चिकित्सीय जांच वाली गतिविधि आयोजित की। मठ में 70 से अधिक भिक्षुओं ने इस में भाग लिया और इलाज के लिए दवाइयां प्राप्त कीं।

जानकारी के अनुसार, “समान दिल का निर्माण”शीर्षक चिकित्सीय सेवा गतिविधि दस साल पहले शुरु हुई। दस सालों में इस परियोजना के तहत देश भर में 400 से अधिक अस्पतालों में 22 हज़ार डॉक्टरों, पेशेवर चिकित्सकों और प्रोफेसरों ने भाग लिया। उन्होंने समूचे देश में 20 से अधिक प्रांतों और पाँच तिब्बती बहुल क्षेत्रों में करीब 5 लाख 14 हज़ार लोगों को चिकित्सीय सेवा दी।

(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)


 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: In Tibet organized the title of "Building the same heart" therapeutic service activity

More News From china

Next Stories
image

free stats