image

हाल ही में हांगकांग पर्यटन उद्योग ने घोषणा की कि 2019 की जनवरी से अगस्त तक हांगकांग में आए पर्यटकों की संख्या 40 प्रतिशत तक गिर गई, जो 2003 में सार्स होने के बाद सबसे खराब है। ब्रिटेन के मीडिया कार्यकर्ता और पूर्व सांसद जॉर्ज गैलोवे ने दुख जताते हुए कहा कि ये हिंसाकारी अपने घर और अपने जीवन को नष्ट कर रहे हैं।

गैलोवे का मानना है कि हांगकांग में हुई हिंसा के पीछे ब्रिटेन और अमेरिका के हाथ मौजूद हैं। भले ही वे जानते हैं कि हांगकांग को चीन से अलग करना असंभव है बल्कि वे चीन की शक्ति को कमजोर करने और चीन की विकास प्रक्रिया में बाधा डालने के लिए पूरी कोशिश करना चाहते हैं।

गैलोवे अब कई टीवी स्टेशनों के समाचार और राजनीतिक टिप्पणी कार्यक्रमों की मेजबानी कर रहे हैं। हांगकांग मामला हाल के दिनों में उनके ध्यान में रही बड़ी अंतरराष्ट्रीय घटनाओं में से एक है। उनका मानना है कि विदेशी सरकारें हांगकांग के स्थानीय युवाओं के पास कम अनुभवों का फायदा उठाकर चीन को विभाजित और दबाव डालना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि इन हिंसक घटनाओं का समर्थन कर रहे तथाकथित "गैर-सरकारी संगठन" वास्तव में अमेरिकी सरकार या ब्रिटिश सरकार के हैं। 

(साभार---चाइना रेडियो इंटरनेशनल ,पेइचिंग)

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Foreign power wants to weaken China - former UK MP

More News From china

Next Stories
image

free stats