image

19 अक्तूबर को उद्घाटित वर्ष 2019 विश्व वीआर उद्योग सम्मेलन में चीन के उप प्रधानमंत्री ल्यू हे ने भाषण देकर चीन की मौजूदा आर्थिक स्थितियों का मूल्यांकन किया। उनके बयान में तीन सकारात्मक संकेत मिले यानी कि चीनी अर्थव्यवस्था की दीर्घकालीन रूझान सकारात्मक बना रहेगा, चीन-अमेरिकी आर्थिक और व्यापार वार्ता में पर्याप्त प्रगतियां प्राप्त हैं, और चीन अपने समग्र आर्थिक लक्ष्यों को साकार करने में समर्थ रहेगा। 

चीन के आर्थिक विकास का मूल्यांकन करने में इसके समग्र रूझान पर ध्यान देना चाहिये। एकतरफावाद और व्यापारिक संरक्षणवाद के प्रभाव से विश्व भर में आर्थिक मंदी का दबाव सामने आया है। चीनी अर्थतंत्र के अन्दर में भी ढ़ांचागत परिवर्तन करने की जरूरत है। लेकिन इसी पृष्ठभूमि में पहले तीन तिमाहियों में चीनी जीडीपी की वृद्धि दर 6.2 प्रतिशत रही। प्रमुख आर्थिक सूचकांक उचित अंतराल में बनी रही हैं। इससे यह जाहिर है कि चीनी अर्थव्यवस्था को जोखिम का विरोध करने की शक्ति प्राप्त है और चीन सरकार नीतियों का तर्कसंगत उपयोग करने के लिए सक्षम भी है।  

वर्तमान में चीनी अर्थव्यवस्था में गहन रूप से आर्थिक रुपांतर किया जा रहा है। औसतन जीडीपी दस हजार अमेरिकी डालर तक जा पहुंची है और देश में मध्य आय वर्ग और घरेलू बाजार का आकार भी संपन्न होने लगा है, जो चीन और विश्व के आर्थिक विकास को बढ़ाने की शक्ति बनेगी। पहले तीन तिमाहियों में आर्थिक वृद्धि में उपभोग वृद्धि की योगदान दर 60.5% रही। इसका मतलब है कि चीन के आर्थिक विकास में उपभोग प्रमुख शक्ति बनी है। 

उधर, आपूर्ति उद्योग के उन्नयन में तेजी लायी गयी है। दूसरी तरफ नव उद्योगों तथा वीआर उद्योगों का जबरदस्त तरीके से विकास किया जा रहा है। नई प्रौद्योगिकियां, नए प्रारूप और नए मॉडल लगातार उभर रहे हैं, जिससे चीन की आर्थिक संरचना के अनुकूलन को बढ़ावा मिला है और आर्थिक वृद्धि में तेज़ी डाली गयी है। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने कहा कि चीन ऐआई तकनीक के संदर्भ में दूसरे देशों के साथ विकास, सुरक्षा और परिणामों को साझा करने के लिए तैयार है। चीन दूसरे देशों का निवेश करने और सहयोग करने का स्वागत करेगा। 

   एक साल तक चलने के बाद चीन-अमेरिका व्यापार वार्ता में वास्तविक प्रगतियां हासिल हुई हैं, जिससे दोनों के बीच अंतिम समझौता संपन्न करने के लिए नींव रखी गई है। चीन अमेरिका के साथ समानता और एक दूसरे का समादर करने के आधार पर एक दूसरे की चिन्ताओं को दूर करना चाहता है, ताकि दोनों के समान लक्ष्य को साकार किया जाए। इससे यह जाहिर है कि दोनों देश अपने उपभोक्ता और उत्पादकों के हितों पर ध्यान देते हैं और उन के बीच सवाल का समाधान करने के लिए व्यवहारिक रास्ता प्रशस्त किया गया है। व्यापार युद्ध को खत्म करने से चीन और अमेरिका, और सारी दुनिया के हित में होता है। 

गत वर्ष के अंत में आयोजित चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की केंद्रीय आर्थिक कार्य मीटिंग ने एक महत्वपूर्ण निष्कर्ष निकाला कि चीन के विकास के लिए महत्वपूर्ण रणनीतिक अवसरों की अवधि दीर्घकाल तक रहेगी। इस वर्ष चीन की आर्थिक प्रगतियों से यह जाहिर है कि चीनी अर्थव्यवस्था का सकारात्मक रूझान नहीं बदला है और इसका भविष्य शानदार रहेगा। चीन विभिन्न चुनौतियों का सामना करने और अपना आर्थिक लक्ष्य साकार करने के लिए काफी विश्वस्त है और पूर्ण रूप से समर्थ है। 

(साभार---चाइना रेडियो इंटरनेशनल ,पेइचिंग)

 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Comment China is able to realize its overall economic goal

More News From china

Next Stories
image

free stats