image

थाइलैंड में रहने वाली थाई-चीन वाणिज्य संघ की अध्यक्ष हू यैन ने थाइलैंड में चीनी पारंपरिक जड़ी-बूटियों का आयात करने का अथक प्रयास किया है। उन्होंने कहा कि उत्तरी चीन के कानसू प्रांत के पारंपरिक जड़ी-बूटियां थाइलैंड के पारंपरिक प्राकृतिक पौधों के बीच समान गुण मौजूद है। इसलिए दक्षिण पूर्वी एशिया में चीनी पारंपरिक जड़ी-बूटियों का विशाल बाजार खोला जाएगा।    

हू यैन और उन की थाई पत्ति ने अनेक सालों के लिए थाइलैंड में पारंपरिक जड़ी-बूटी का बिजनेस किया है। सन 2018 के मई माह में उन्होंने बैंकाक में एक चीनी पारंपरिक जड़ी-बूटी केंद्र स्थापित किया। उन की योजना है कि वे चीनी लानचौ शहर के एक दवा कारखाने के साथ संयुक्त रूप से थाइलैंड में चीनी पारंपरिक दवा अस्पताल की स्थापना की जाएगी। जो स्थानीय लोगों और चीनी मूल उत्प्रवासियों की सेवा करेगा। हू यैन ने कहा कि चीनी पारंपरिक दवा और पश्चिमी चिकित्सा के एकीकृत होने से कैंसर समेत लाइलाज रोगों के उपचार में प्रभावित है। जिससे थाइलैंड और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय का ध्यान आकर्षित है।

(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)

 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Chinese herbs are blooming in Southeast Asia

More News From china

Next Stories
image

free stats