image

 

इस हफ्ते चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग जी-20 ओसाका शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। 2013 से अब तक शी चिनफिंग ने क्रमशः छह बार जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया और हमेशा खुलेपन और सहयोग, साझे विकास का आह्वान करते रहें। चीनी स्मार्ट और चीनी प्रस्ताव ने जी-20 के मंच पर गहरा चीनी निशान छोड़ा है।

2013:   खुलापन

आर्थिक भूमंडलीकरण विकास की प्रवृत्ति है। 2013 में रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने पहली बार जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया था। उन्होंने चीन सरकार द्वारा खुलेपन विश्व अर्थतंत्र की रक्षा करने और आर्थिक भूमंडलीकरण की रक्षा करने के चीन का रुख जताया। उन्होंने कहा कि खिड़की खुलने से ताज़ा हवा अंदर आ सकेगी। संरक्षणवादी और मनमानी व्यापारी बचाव कदम उठाने से दूसरों को हानि पहुंचाने के साथ खुद को भी नुकसान पहुंचेगा।

2014:   नवाचार

विश्व आर्थिक विकास के लिए नयी प्रेरणा शक्ति की खोज करना जी-20 का एक अहम कर्तव्य है। 2014 में शी चिनफिंग ने ऑस्ट्रेलिया के अब्रहम शिखर सम्मेलन में कहा कि हमें विकास के विचारधारण, नीति, तरीके का नवाचार कर विकास गुणवत्ता पर और महत्व देना चाहिए। हमें समग्र आर्थिक नीति और सामाजिक नीति के जोड़ने से संपत्ति की जीवित शक्ति को प्रेरित करना चाहिए।

2015:   साझेदार भावना

2015 के तुर्की अनातोलिया शिखर सम्मेलन के दौरान शी चिनफिंग ने वैश्विक आर्थिक विकास और रोज़गार को बढ़ावा देने के लिए नुस्खा बताया। उन्होंने कहा कि हमें सुधार और नवाचार को आगे बढ़ाकर विश्व अर्थतंत्र के मध्यम और लम्बे विकास की नीहित शक्ति को मज़बूत करना चाहिए, खुलेपन विश्व अर्थंतंत्र की रचना कर अंतर्राष्ट्रीय व्यापार और निवेश की जीवित शक्ति को प्रेरित करना चाहिए, 2030 अनवरत विकास कार्यक्रम का कार्यान्वयन कर न्यायपूर्ण और समावेशी विकास में प्रबल शक्ति डालनी चाहिए।

2016:   वैश्विक आर्थिक प्रशासन का विचारधारण

2016 में चीन के हांगचो में जी-20 शिखर सम्मेलन का आयोजन हुआ था। मौके पर चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने पहली बार समानता, खुलेपन, सहयोग और साझा उपभोग वाले वैश्विक आर्थिक प्रशासन के विचारधारण पर प्रकाश डाला। 

2017:    आपसी संपर्क

2017 के जर्मन हैमबर्गर शिखर सम्मेलन में चीनी राष्ट्रति शी चिनफिंग ने वैश्विक आर्थिक प्रशासन के लिए सुझाव पेश किये। उन्होंने कहा कि हमें समग्र नीतिगत संपर्क को मज़बूत कर वित्तीय बाज़ार के जोखिम से बचाना चाहिए और यथार्थ आर्थिक विकास में वित्तीय उद्योग की भूमिका अदा करनी चाहिए। साथ ही उन्होंने विभिन्न पक्षों से हाथ मिलकर सहयोग करने की अपील भी की।

2018:   10 साल, मूल आकांक्षा और भविष्य

2018 में जी-20 शिखर सम्मेलन की 10वीं जयंती है। अर्जेंटीना के 

ब्यूनस आयर्स में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने जी-20 की मूल आकांक्षा पर प्रकाश डाला। उन्होंने जी-20 सहयोग की केंद्रीय भावना पर प्रकाश डाला। यानी खुलेपन और सहयोग पर डटे रहना चाहिए, साझेदारी भावना पर डटे रहना चाहिए, नवाचार पर डटे रहना चाहिए और समान उदार और साझी जीत पर भी डटे रहना चाहिए।

2019 जापान के ओसाका में जी-20 शिखर सम्मेलन शुरू होगा। चीनी राष्ट्रपती शी चिनफिंग सातवीं जी-20 यात्रा पर जा रहे हैं……

(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: China's voice on the G20 forum

More News From china

Next Stories
image

free stats