image

 

जापानी संसद के नीचले सदन के सांसद, जापान-चीन मैत्री सांस्द संघ के महासचिव सोइची कोंदो ने 17 जून को चीनी संवाददाता से बातचीत के दौरान कहा कि व्यापारिक संरक्षणवाद अपनाना व्यर्थ है। चीन और अमेरिका को वार्ता के जरिये व्यापार का संतुलन कायम किया जाना चाहिये।

   सोइची कोंदो ने कहा कि अमेरिका स्वतंत्र व्यापार का नेतृत्वकारी था। लेकिन आज राष्ट्रपति ट्रम्प ने "यूएस प्राथमिकता" का नारा लगाया। अमेरिका स्वतंत्र व्यापार से व्यापारिक संरक्षणवाद की ओर मुड़ गया है। लेकिन संरक्षणवाद से अमेरिका का लक्ष्य संपन्न नहीं हो सकेगा। व्यापार में केवल उभय जीत सिद्धांत दोनों के हितों के अनुकूल है। दूसरी तरफ अमेरिका और चीन के बीच केवल व्यापारिक संतुलन की बात नहीं, बल्कि 5जी तकनीक के नेतृत्वकारी अधिकार की प्रतिस्पर्द्धा भी मौजूद है। इसी स्थितियों में विभिन्न देशों को घर्षण करने के बजाये व्यापक सहयोग करना चाहिये ताकि मानव हित के अनुकूल तकनीकी अनुसंधान कर सके। विभिन्न देशों को एक दूसरे की आपूर्ति करनी चाहिये और तकनीक के विकास को बढ़ावा देना चाहिये। जब समस्या सामने आये, तब तो विचार विमर्श के जरिये सवाल का समाधान करना चाहिये।

सोइची कोंदो ने कहा कि जी 20 शिखर सम्मेलन इसी महीने के अंत में जापान में आयोजित होगा और चीनी राष्ट्रपति भी प्रथम बार जापान की यात्रा करेंगे। आशा है कि विभिन्न देशों के नेताओं के समान प्रयासों से जी 20 शिखर सम्मेलन में व्यापार संरक्षणवाद तथा एकतरफावाद का विरोध करने का सकारात्मक संकेत भेजा जाएगा। और तो और जापान और चीन के बीच स्वतंत्र व्यापार की रक्षा में हाथ मिलाने का रूझान नजर आ रहा है। जी 20 की संरचना में स्वतंत्र व्यापार को बनाये रखने के लिए सामूहिक प्रयास किया जाना चाहिये। राजनीति और व्यापार के अलावा जापान और चीन को वातावरण, संस्कृति, खेल और मानवीय आदान प्रदान के संदर्भ में अधिक सहयोग करना ही चाहिये।

(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Business imbalance should resolve with talks: Japanese MP

More News From china

Next Stories
image

free stats