image

  भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवाद) के महासचिव सीताराम येचुरी ने हाल में चीनी संवाददाता को दिए एक इन्टरव्यू में कहा कि अमेरिकी सरकार का व्यापारिक प्रभुत्ववाद और एकतरफ़वाद खुद के लिए नुकसान ही नहीं, दुनिया के समग्र विकास की प्रवृत्ति पर भी गंभीर प्रभाव पड़ेगा।

येचूरी ने कहा कि अगर अमेरिका सरकार ने अपने देश में चीनी वस्तुओं पर लगातार टैरिफ़ बढ़ाया, तो खुद प्रभावित होगा, नतीजतन अमेरिकी आर्थिक वृद्धि गिर जाएगी और बड़ी मात्रा में रोज़गार का पद खो जाएगा। अमेरिका सरकार के चीन के प्रति आर्थिक व्यापारिक घर्षण भड़काने और भारत के प्रति उदार नीति को रद्द करने से उसकी संकीर्ण सोच जाहिर हुई। भूमंडलीकरण के युग में किसी भी देश का विकास वैश्विक व्यवस्था से अलग नहीं हो सकता।

  येचूरी ने बल देते हुए कहा कि अमेरिका के व्यापारिक साथियों पर टैरिफ़ बढ़ाने की कार्रवाई अंतरराष्ट्रीय मापदंड का उल्लंघन है। आर्थिक समुदायों के बीच आर्थिक व्यापारिक घर्षण का समाधान खास अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं के समन्वय की जरूरत है, न कि व्यापारिक युद्ध करने के तरीके से। वर्तमान में अमेरिका की कार्रवाई बहुत खतरनाक है।

(साभार---चाइना रेडियो इंटरनेशनल ,पेइचिंग)


 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: America's economic business friction will threaten global economy: Sitaram Yechury

More News From china

Next Stories
image

free stats