image

नई दिल्ली: एक तरफ जहां देश भर में टेक्नोलॉजी, विकास, और डिजीटल इंडिया जैसी बातें हो रही हैं, वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो आज तक अंधविश्वास के दल-दल में फंसे पड़े हैं। ताजा मामले में एक तांत्रिक ने देवता को खुश करने के लिए अपने ही बेटे की बलि देने की इच्छा रखी। इतना ही नहीं,  तांत्रिक ने इस बलि के लिए अधिकारियों को आवेदन भेज कर उनसे अनुमति मांगी। तांत्रिक का कहना है कि बलि देना कोई अपराध नहीं है। बिहार पटना के रहने वाले सुरेंद्र प्रसाद सिंह नाम के तांत्रिक ने मंगलवार को बेगूसराय के अधिकारियों को एक आवेदन भेजा, जिसमें उसने अपने देवता को खुश करने के लिए मानव बलि की अनुमति मांगी।

Maruti Suzuki अपनी इस कॉम्पैक्ट हैचबैक पर दे रही 1 लाख का डिस्काउंट

यह तांत्रिक मोफस्सिल थाने के अंदर आने वाले क्षेत्र मोहनपुर के पहाड़पुर गांव का रहने वाला है। उसने अपने इंजीनियर बेटे को रावण बताया है। क्योंकि उसके बेटे ने उसके मंदिर को पैसा देने से इनकार कर दिया, जिससे वो उसकी बलि लेना चाहता है। इस तांत्रिक के लिखे पत्र की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गई, यह पत्र तांत्रिक ने एसडीओ संजीव कुमार चौधरी को लिखा था। पत्र में पागल बाबा के नाम से मशहूर इस तांत्रिक ने कहा कि उन्हें देवी कामाख्या ने मानव बलि देने का आदेश दिया था। इस बारे में एसडीओ का कहना है, मानव बलि अवैध है और पत्र और तांत्रिक को खोजने के लिए जांच का आदेश दिया गया है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Tantrik wants Sacrificial of his son, asked for the permission from police

More News From jara-hat-ke

Next Stories
image

free stats