image

आज की युवा पीढ़ी सोशल मीडिया पर बहुत एक्टिव रहती है। सोशल मीडिया से जुड़ी ख़बरें भी अक्सर मीडिया में रहती हैं। सोशल मीडिया का ज़्यादा उपयोग करना किस तरह से ख़तरनाक है इस पर भी कई जगहों पर अक्सर बहस देखने को मिल जाती है। लेकिन इस बार मामला अलग है, क्योंकि इस बार परिवार ने सोशल मीडिया के Instagram प्लेटफॉर्म को उनकी लड़की की आत्महत्या आरोप लगाया है। इंस्टाग्राम के प्रमुख एडम मूसेरी ने 'द टेलीग्राफ' को लिखे एक पत्र में 'सेंसिटिव स्क्रीन्स' के शुरू करने की घोषणा करते हुए एक ब्रिटिश किशोरी की आत्महत्या पर दुख प्रकट किया जिसके परिजनों ने फोटो शेयरिंग एप पर अपनी बेटी को खुद को नुकसान पहुंचाने और अत्महत्या वाले कंटेंट दिखाने का आरोप लगाया था। 

RBI ने डिजीटल वॉलेट्स सर्विसेज़ को लेकर उठाया बड़ा कदम, आप भी जानें

मूसेरी ने कहा, "हम अभी तक वहां नहीं हैं जहां से हमें आत्महत्या या खुद को हानि पहुंचाने वाले मुद्दों पर आने की जरूरत है। हमें वह सब करना है जो हम अपने एप को यूज करने वाले महत्वपूर्ण लोगों के लिए कर सकते हैं।" इंस्टाग्राम (Instagram) ने प्लेटफॉर्म पर खुद को नुकसान पहुंचाने वाली, भड़काऊ और आपत्तिजनक कंटेंट को नाबालिगों की नजरों से दूर रखने के लिए 'सेंसिटिव स्क्रीन' फीचर लांच किया है जो आपत्तिजनक तस्वीरों, वीडियो-थंबनेल्स को ब्लर रखेगा जबतक यूजर उस पर क्लिक नहीं करता। 

लैंबॉर्गिनी Huracan Evo भारत में हुई लॉन्च, जानें क्या है कीमत

'वोग डॉट को डॉट यूके' की बुधवार की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय यूजर्स के लिए उपलब्ध हो चुका यह नया फीचर काटने और खुद को नुकसान पहुंचाने की ऐसी तस्वीरों को ब्लॉक कर देता है जो सर्च, रिकमेंड करने या हैशटैग में अचानक नजर आ सकती हैं और नाबालिगों को शारीरिक नुकसान दे सकती हैं। यह घोषणा इंग्लैंड के स्वास्थ्य सचिव मैट हैंकॉक के इंस्टाग्राम की स्वामित्व वाली कंपनी फेसबुक को अपने एप्स और फेस लीगल कार्रवाई पर युवाओं की सुरक्षा बेहतर करने की चेतावनी देने के बाद आई है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Family accused Social media Platform Instagram for the suicide of girl

More News From crime

free stats