image

नई दिल्लीः वीडियो सोशल मीडिया मंच टिकटॉक और हेलो को सरकार ने नोटिस भेजकर 21 सवालों के जवाब मांगे हैं। साथ ही इनका जवाब नहीं देने की स्थिति में प्रतिबंध का सामना करने की चेतावनी दी है। हालांकि, टिकटॉक ने कहा है कि वह सरकार के साथ सहयोग करने को प्रतिबद्ध है। इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने यह कार्रवाई राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े स्वदेशी जागरण मंच की ओर से प्रधानमंत्री को भेजी गई एक शिकायत पर की है।

इस शिकायत में आरोप लगाया गया है कि इन मंचों का उपयोग राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में हो रहा है। इस संबंध में टिकटॉक एवं हेलो ने एक संयुक्त बयान में कहा कि हम भारत की डिजिटल अर्थव्यवस्था द्वारा हमें मिले अपार सहयोग के लिए आभारी हैं। भारत सबसे मजबूत बाजारों में से एक है। भारत के लिए हमारी प्रतिबद्धता के अनुरुप हम अगले तीन सालों में भारत में एक अरब डॉलर का निवेश कर रहे हैं। भारत में हमारी सफलता हमारे स्थानीय समुदाय के सहयोग के बिना संभव नहीं होगी। हम इस समुदाय की जिम्मेदारियों को गंभीरता से लेते हैं और अपने दायित्वों को पूरा करने के लिए सरकार के साथ पूरा सहयोग करने के इस अवसर का स्वागत करते हैं।

सूत्रों ने बताया कि मंत्रालय ने टिकटॉक और हेलो से ‘राष्ट्र विरोधी गतिविधियों का केंद्र’ बनने के आरोपों पर जवाब मांगा है। साथ ही भारतीय उपयोक्ताओं का डाटा मौजूदा समय में और बाद में भी किसी विदेशी सरकार या तीसरे पक्ष या निजी इकाई को हस्तांतरित नहीं करने का आश्वासन देने के लिए कहा है। इसके अलावा मंत्रालय ने दोनों मंचों से भारतीय कानूनों का पालन करने और फर्जी खबर की जांच के लिए पहल शुरू करने पर भी जवाब मांगा है।

 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: TikTok-Helo Felt The Blow, Government Has Sent In This Case Notes

More News From national

Next Stories
image

free stats