image

कर्नाटक स्थित हुबली राज्य के सबसे तेजी से विकसित होते शहरो में एक है, जिसे अक्सर छोटा मुंबई के नाम से भी संबोधित किया जाता है। व्यावसायिक गतविधियों और शहरी चकाचौंध के साथ यह शहर पर्यटन के दृष्टि से भी काफी समृद्ध है। हुबली चारों तरफ से मनमोहक प्राकृतिक दृश्यों, पहाड़ियों, जलप्रपातों, उद्यान, मंदिर और ऐतिहासिक संरचनाओं से घिरा हुआ है।

शहर के आसपास कई खूबसूरत जलप्रपात मौजूद हैं जो अपनी विशालता और खूबसूरती के लिए जाने जाते हैं। मात्र कुछ घंटों का सफर तय कर आप इन वाटर फॉल्स की सैर कर सकते हैं। एक सुकून भरी पारिवारिक यात्र या दोस्तों के साथ ट्रिप के लिए ये जलप्रपात आदर्श विकल्प हैं।  जानिए ये वाटरफॉल्स आपको किस प्रकार आनंदित कर सकते हैं।  

सथोड़ी जलप्रपात  
हुबली से 75 कि.मी.का सफर तय कर आप सथोड़ी जलप्रपात की सैर का प्लान बना सकते हैं। यह कर्नाटक के सबसे खूबसूरत और विशाल जलप्रपातों मे गिना जाता है। सथोड़ी अपने शांत भरे माहौल और प्राकृतिक परिदृश्य के लिए प्रसिद्ध है। यह जलप्रपात कई धाराओं का समूह हैं, जो एक साथ गिरते हुए बहुत ही खूबसूरत नजर आती हैं। यहां पानी 50 फीट की ऊंचाई से गिरता है। जलप्रपात से होती धाराएं अपना सफर पूरा कर कोडासल्ली बांध में जा गिरती है। कोडासल्ली काली नदी पर बना एक खूबसूरत बांध है। यहां आने का सबसे आदर्श समय नवंबर से लेकर अप्रैल के मध्य का है । एक शानदार यात्र के लिए आप यहां का प्लान बना सकते हैं।

मगोड प्रपात   
सथोड़ी के अलावा आप हुबली से मगोड जलप्रपात की सैर का प्लान बना सकते हैं। यह हुबली मुख्य शहर से लगभग 88 कि.मी. की दूरी पर स्थित है। यह स्थल प्रकृति प्रेमियों के लिए किसी खजाने से कम नहीं है। जल धाराओं के चारों ओर बिखरी प्राकृतिक खूबसूरती सैलानियों को काफी ज्यादा प्रभावित करती है। यह वाटरफॉल दो बड़े जलप्रपातों का समूह है जो बेदती नदी से जलप्रपात करते हैं, और 650 फीट की ऊंचाई से गिरता हैं। यह कर्नाटक के सबसे विशाल जलप्रपातों में गिना जाता है। इस स्थल के पास एक खूबसूरत सनसैट प्वाइंट है, जिसे जेनु कल्लू गुड्डू के नाम से जाना जाता है। आप यहां का सूर्योस्त के मनोरम दृश्यों को देख सकते हैं। एक शानदार यात्र के लिए आप यहां का प्लान बना सकते हैं।

जोग फॉल्स  
हुबली से आप 190 कि.मी. का सफर तय कर जोग फॉल्स की सैर का प्लान बना सकते हैं। यह कर्नाटक सबसे विशाल जलप्रपातों में गिना जाता है। यह वाटरफॉल 900 फीट की ऊंचाई का है, जो सैलानियों को काफी ज्यादा आनंदित और रोमांचित करने का काम करता है। यह एक खास वाटरफॉल है जहां शारावथी नदी चार धाराओं सो होकर गुजरती है। ये चार धाराएं अपने आप में ही अद्भुत हैं। आसपास का माहौल काफी शांत है जहां आप अपार मानसिक और आत्मिक शांति का अनुभव कर सकते हैं। एक रिफ्रैशिंग यात्र के लिए आप यहां आ सकते हैं।

सोगल्ला जलप्रपात
उपरोक्त जलप्रपातों के अलावा आप हुबली से 75 कि.मी. की दूरी का सफर तय कर सोगल्ला वाटरफॉल का सफर तय कर सकते हैं। यह एक खास स्थल है, जहां आप काफी रिफ्रैशिंग महसूस करेंगे। पहाड़ों की उपस्थिति इस जलप्रपात को खास बनाने का काम करती है। कर्नाटक भ्रमण पर निकले पर्यटकों के मध्य यह काफी लोकप्रिय है। इस स्थल के आसपास कई मंदिर भी मौजूद हैं, जिनमें सोमेश्वर काफी प्रसिद्ध है। मंदिर की वास्तुकला पर्यटकों को काफी ज्यादा प्रभावित करती है। एक शानदार यात्र के लिए आप यहां का प्लान बना सकते हैं।

कैसे करें प्रवेश
हुबली पर आप परिवहन के तीनों साधनो में पहुंच सकते हैं। हुबली का अपना हवाई अड्डा है, जहां से आप देश के बड़े शहरों के लिए फ्लाइट्स ले सकते हैं। रेल मार्ग के लिए आप हुबली जंक्शन का सहारा ले सकते हैं। अगर आप चाहें तो यहां सड़क मार्गो से भी पहुंच सकते हैं, बेहतर सड़क मार्गो से हुबली राज्य के कई छोटे-बड़े शहरों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Do you know about the beautiful and huge waterfalls of Hubli

More News From eknazar

Next Stories
image

free stats