image

पेरिसः संयुक्त राष्ट्र के सोमवार को जारी एक आकलन में कहा गया है कि जानवरों एवं पौधों की 10 लाख प्रजातियां विलुप्त होने की कगार पर पहुंच गई हैं। इनमें से कई प्रजातियों पर कुछ दशकों में ही विलुप्त हो जाने का खतरा मंडरा रहा है। आकलन में कहा गया है कि मनुष्य उसी प्रकृति को नष्ट कर रहा है, जिस पर उसका अस्तित्व निर्भर है और इसी का खामियाजा ये प्रजातियां भुगत रही हैं।

संयुक्त राष्ट्र के 400 से अधिक विशेषज्ञों के एक दल ने ‘समरी फॉर पॉलिसीमेकर्स’ में बताया कि पृथ्वी की करीब 80 लाख प्रजातियां बड़ी तेजी से खत्म हो रही हैं। ये प्रजातियां पिछले एक करोड़ वर्षों की तुलना में दसियों हजार गुणा तेजी से विलुप्त हो रही हैं।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Danger: 10 Million Species Of Plants-Animals, On The Brink Of Extinction

More News From international

IPL 2019 News Update
free stats