image

कौन बनेगा करोड़पति के सीजन 11 अपनी शुरुआत के साथ कई दिलचस्प कंटेस्टेंट के साथ सामने आया। बता दें कि शुक्रवार को कर्मवीर स्पेशल एपिसोड में समाज सेविका सिंधुताई सपकाल ने हिस्सा लिया। शो में अमिताभ बच्चन ने खुद खड़े होकर उनका स्वागत किया। 

जी हां, अमिताभ ने उनके पैर भी छुए और उन्हें हॉट सीट पर बैठाया। सिंधुताई का जीवन काफी मुश्किलों से भरा हुआ उन्ही की जुबानी उनकी कहानी सुन सभी के रोंगटे खड़े हो गए। उन्होंने कहा- 'मैं 20 साल की थी और मेरी बच्ची 10 दिन की। उस वक्त मेरे ससुरालवालों ने मुझे घर से निकाल दिया था। मेरी मां ने भी मुझे घर से निकाल दिया था। 

READ MORE: Nach Baliye 9: मधुरिमा के बाद अब उनकी मां ने विशाल पर छोड़े तीखे बाण, औरत की रिस्पेक्ट को लेकर बोली ये बात

वो मुझे नहीं चाहती थीं। मुझे समझ नहीं आया मैं क्या करूं, इतनी छोटी बच्ची को लेकर कहां जाऊं। मेरे पास कोई खाने-रहने के लिए कुछ नहीं बचा था। तब मैं ट्रेन में घूमा करती थी। पेट भरने के लिए ट्रेन में गाना शुरू कर दिया'

'मेरे पास घर नहीं था। मैं भिखारियों के साथ खाना खाती थी। दिन तो निकल जाता था, लेकिन सवाल रात का था। मैं 20 साल की थी। मर्दों से डर लगता था। समझ नहीं आया कहां जाऊं, तो मैं श्मशान में जाकर सोती थी क्योंकि रात में वहां कोई नहीं जाता। मरने के बाद ही कोई वहां जाता है। अगर कोई मुझे रात में वहां देखता था तो भूत-भूत कहकर भाग जाता था'

READ MORE: ...तो इन दो कारणों की वजह से करीना कपूर की इज्जत करती है सारा अली खान

आगे उन्होंने कहा- 'श्मशान में रहने वाली एक बाई क्या कर सकती है। मैं भूखी होती थी इसलिए दूसरों की भूख का भी अंदाजा था मुझे मैंने मिल बांटकर खाया और अनाथों की मां हो गई। जिसका कोई नहीं उसकी मैं मां'

READ MORE: जल्द ही हॉलीवुड में ये बड़ा धमाका करने जा रही है प्रियंका चोपड़ा, फैंस पढ़ना न भूले 

सिंधूताई ने सभी अनाथ बच्चों की देखरेख का काम शुरू कर दिया लेकिन उन्होंने ये काम जब शुरू किया तो सबसे पहले उन्हें लगा कि उनकी अपनी बच्ची उनके साथ रहेगी तो दूसरे बच्चों को ये ना लगे कि उनके साथ भेदभाव किया जा रहा है इसलिए उन्होंने सबसे पहले अपनी बेटी ममता को खुद से दूर कर दिया था। 

READ MORE: Lakme Fashion Week 2019: तीसरे दिन रैंप पर उतरी तारा सुतारिया, जबरदस्त लुक में ढाया कहर 

बता दें कि सिंधुताई को अनाथों की मां कहते हैं। सिंधुताई जब किसी बच्चे को सड़क के किनारे रोता, अनाथ देखती हैं तो उसे अपना बना लेती हैं। उनके परिवार में 207 जमाई, 36 बहू और 450 से भी ज्यादा पोते-पोतियां हैं और 1200 से भी ज्यादा बच्चे हैं। उन्हें अब तक राष्ट्रपति सम्मान के अलावा  750 अवॉर्ड दिए जा चुके हैं। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: KBC 11 amitabh bachchan emotional by sindhutai life story

More News From entertainment

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats