image

रत्नशास्त्र में सभी रत्नों के बारे में विस्तार से बताया गया है। किस रत्न को धारण करने से क्या फायदें होते हैं और कौन सी राशि को कैसा रत्न धारण करना चाहिए। आज हम आपको रत्न शास्त्र से ही जुड़े रत्न गोमेद के बारे में आपको बताने जा रहे हैं। तो आइए जानते हैं।

Read More: सूर्यरथ सप्तमी 2019: जानिए व्रत-विधि और पौराणिक कथाएं

गोमेद एक ऐसा रत्न माना जाता हैं, जिसे धारण करने से राहु के सभी दोष दूर हो सकते हैं। इसलिए इस रत्न को राहु रत्न भी कहा जाता हैं। वही आपको बता दें,कि इस रत्न में राहु की शक्तियां और गुण दोनो ही उपस्थित होते हैं। वही यह नकारात्मक शक्ति को सकारात्मक शक्ति में भी परिवर्तित कर सकता हैं। गोमेद को धारण करने से व्यक्ति के जीवन की कई सारी परेशानियां समाप्त हो जाती हैं। इससे स्वास्थ्य संबंधी समस्या भी समाप्त हो जाती हैं।

Read More: सैंकड़ो वर्षों बाद पहली बार आया ये शुभ योग, सूर्य करेंगे इस राशि में गोचर

गोमेद को उसके रंग और चमक से पहचाना जाता हैं। वही गोमेद को पीत रक्तमणि भी कहा जाता हैं। बता दें,कि गोमेद पीला, नारंगी, हरा व भूरे रंग में प्राप्त हो सकता हैं। मगर सबसे अच्छा गोमेद वह माना जाता हैं। जो हल्के पीले रंग के साथ पारदर्शी और चिकना व चमकदार होता हैं।

Read More: बजरंगबली की पूजा में ना करें चरणामृत का प्रयोग, जानिए क्यों 

Read More: राशिफल: आज इन राशियों को होगी आर्थिक हानि, वाणी में रखें मधुरता

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Onyx gem

More News From dharm

free stats