image

हर माह एकादशी और अमावस्या आती है जिस दिन भगवान की पूजा करने से हमारे घर में फैली नकारात्मक शक्तियां और दोषों का अंत होता है। बता दें हर साल ज्येष्ठ माह की कृष्ण पक्ष की अमावस्या को शनि जयंती मनाई जाती है, इसी तरह इस साल भी शनि जयंती मनाई जाएगी। जिसका अपना गहरा संबंध है। बता दें इस बार शनि जयंती 3 जून को मनाई जाएगी, बता दें जिन लोगों पर शनि की साढ़ेसाती चल रही है वह इस दिन शनिदेव के कुछ चमत्कारी मंत्रों का जाप करें-

शनि जयंती पर इन मंत्रों से करें शनिदेव को प्रसन्न-
ऊँ श्रां श्रीं श्रूं शनैश्चाराय नमः। ऊँ हलृशं शनिदेवाय नमः।
ऊँ एं हलृ श्रीं शनैश्चाराय नमः।
ऊँ मन्दाय नमः।।
ऊँ सूर्य पुत्राय नमः।।

साढ़ेसाती से बचने के मंत्र :-
ऊँ त्रयम्बकं यजामहे सुगंधिम पुष्टिवर्धनम ।
उर्वारुक मिव बन्धनान मृत्योर्मुक्षीय मा मृतात ।।

ॐ शन्नोदेवीरभिष्टय आपो भवन्तु पीतये।शंयोरभिश्रवन्तु नः।
ऊँ शं शनैश्चराय नमः।।

क्षमा के लिए शनि मंत्र-
अपराधसहस्त्राणि क्रियन्तेहर्निशं मया।
दासोयमिति मां मत्वा क्षमस्व परमेश्वर।।

गतं पापं गतं दुरू खं गतं दारिद्रय मेव च।
आगतारू सुख-संपत्ति पुण्योहं तव दर्शनात्।।

अच्छे स्वास्थ्य के लिए शनि मंत्र-
ध्वजिनी धामिनी चौव कंकाली कलहप्रिहा।
कंकटी कलही चाउथ तुरंगी महिषी अजा।।
शनैर्नामानि पत्नीनामेतानि संजपन् पुमान्।दुःखानि नाश्येन्नित्यं सौभाग्यमेधते सुखमं।।

शनि देव का गायत्री मंत्र-
ऊँ भगभवाय विद्महैं मृत्युरुपाय धीमहि तन्नो शनिः प्रचोद्यात्।।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Shani Jayanti 2019

More News From dharam

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats