Storm

अल साल्वाडोर में चक्रवाती तूफान अमांडा से 11 लोगों की मौत

सैन जोस: अल साल्वाडोर में उष्णकटिबंधीय चक्रवाती तूफान अमांडा ने जबरदस्त तबाही मचायी और तूफान से 11 लोगों की मौत हो गयी। सरकार ने सोमवार को यह जानकारी दी। नागरिक सुरक्षा एजेंसी ने कहा कि बारिश, बाढ़, भूस्खलन और नदियों में उफान देखा  गया। सैन जुआन ओपिको के शहर ग्रैनाडिलस में तीन मौतें हुईं और एक परिवार बाढ़ के तेज बहाव में बह गया।

राजधानी सैन साल्वाडोर के सैन पेड्रो के जिले और सोयापंगा, ला पाज ओर न्यूवो इजराइल में भी लोगों की मरने की सूचना मिली है। 

एजेंसी ने बताया एक व्यक्ति अभी भी लापता है। तूफान के बाद बाढ़ की चपेट में 200 घरों को नुकसान पहुंचा और मध्य अमेरिकी देश के पश्चिमी भाग में 100 पेड़ उखड़ गए। अधिकारियों के मुताबिक जिन लोगों के घर तबाह हो गये उनके लिए 10 आश्रय घर बनाए हैं। 

राष्ट्रपति नायिब बुकेले ने राष्ट्रव्यापी रेड अलर्ट की घोषणा की है और तूफान के मद्देनजर इससे उबरने के लिए 15 दिनों की आपातकाल लागू कर दिया है। गृह मंत्री मरिओ डुरान ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि देश पहले कोरोना वायरस कोविड-19’ के साथ इस उष्णकटिबंधीय चक्रवाती तूफान के आने से नाजुक स्थिति से गुजर रहा है  पर्यावरण मंत्रालय ने चेतावनी दी है कि भूस्खलन और चक्रवाती तूफान अमांडा के कमजोर पड़ने के बावजूद आने वाले घंटों में देश को भारी मसलाधार बारिश का सामना करना पड़ सकता है।