china

यूएन महासभा के अध्यक्ष बने चीनी शिक्षा कार्य के प्रशंसक

 24 जनवरी को अंतरराष्ट्रीय शिक्षा दिवस मनाया जाता है। 74वीं संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष तिज्जानी मुहम्मद-बंदे ने न्यूयार्क में चीनी समाचार एजेंसी शिनहुआ को दिए एक इन्टर्व्यू में कहा कि शिक्षा संयुक्त राष्ट्र 2030 अनवरत विकास कार्यक्रम की कड़ी है। उन्होंने चीनी शिक्षा कार्य में प्रात उपल्बधियों की प्रशंसा भी की।

मुहम्मद-बंदे ने कहा कि इंसान शिक्षा से कौशलता और ज्ञान प्राप्त करता है, जिनके प्रयोग से गरीबी और पर्यावरण जैसे सवाल का समाधान किया जा सकता है। शिक्षा न केवल लिखना और पढ़ना होता है, बल्कि उसकी सांस्कृतिक भूमिका होती है। इंसान को पालना से कब्र तक लगातार सीखना चाहिए। पढ़ाई से इंसान के चरित्र और आचरण की स्थापना और सामाजिक प्रगति के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।  

मुहम्मद-बंदे अंतरराष्ट्रीय समुदाय से उथल-पुथल और गरीब देशों या क्षेत्रों में बाल-बच्चों के शिक्षा मुद्दे पर ध्यान देने की अपील की। उनके विचार में उन बच्चों को एक सुरक्षित लर्निंग माहौल मुहैया करवाना बहुत सार्थक है। मुहम्मद-बंदे चीनी शिक्षा कार्य में प्राप्त उपलब्धियों के प्रशंसक हैं। उन्होंने कहा कि चीनी शिक्षा कार्य में सफलता का एक ही कारण नहीं है, जबरदस्त नेतृत्व शक्ति, सही नीति और उच्च स्तरीय दूरगामी दृष्टि ने अहम भूमिका निभाई।
(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)