avdertisement
medicinal plants

हेल्दी रहने के लिए घर में लगाएं ये 5 औषधीय पौधे

हेल्थ से जुड़ी हर छोटी परेशानी के लिए कभी-कभी घरेलू नुस्खों को अपनाकर देखना चाहिए। इसी के चलते अगर हम अपने घरों में कुछ प्लांट लगा लेते हैं तो ये हमारी कई बीमारियों के लिए रामबाण इलाज साबित हो सकता है। कई प्रकार के पौधों और जड़ी-बूटियों में औषधीय गुण होते हैं। इसके अलावा दवाई की तरह इनका कोई साइड इफैक्ट भी नहीं होता। हेल्थ को अच्छा बनाए रखने के लिए ये पौधे काफी अच्छे साबित हो सकते हैं। अगर आप प्राकृतिक तरीकों पर भरोसा रखते हैं, तो कुछ औषधीय पौधे हैं, जिनमें उपचार के अद्भुत गुण मौजूद हैं। इन पौधों का उपयोग प्राचीन समय से उनके गुणकारी गुणों के लिए किया जाता है।

चाय का पेड़: चाय के पेड़ से निकाला गया तेल स्किन के लिए बहुत अच्छा होता है। ये पिंपल्स, एथलीट फुट, छोटे घाव, ड्रैंड्रफ और कीड़े के काटने को ठीक कर सकते हैं। हालांकि इसे त्वचा पर लगाने से पहले एलर्जी की जांच कर लें। चाय के पेड़ का तेल हैंड सेनिटाइजर के रूप में भी अच्छा काम कर सकता है। यह कीट निवारक भी है। मामूली कट जाने पर और स्क्र ैप के लिए यह एंटीसेप्टिक का काम कर सकता है।

इवनिंग प्रिमरोज: इस फूल का तेल मल्टीपल स्केलेरोसिस के रोगियों के लिए अच्छा होता है। यह पीएमएस, त्वचा की स्थिति, मेनॉपोज, मधुमेह न्यूरोपैथी और ब्लड प्रेशर से निपटने में भी आपकी मदद कर सकता है।

लैवेंडर: इस सुगंधित बैंगनी फूल के तेल में एंटीस्ट्रेस गुण होते हैं। यह तेल ब्लड प्रेशर के स्तर को भी नियंत्रित कर सकता है। यह आपको बेहतर नींद दिलाने में मदद करता है। इसके अलावा यह स्ट्रेस और तनाव को भी दूर करता है। इसे घर में लगाने से पॉजिटिविटी मिलती है।

जिन्कगो बाइलोबा: ये ब्लड शुगर के स्तर को भी नियंत्रित कर सकता हैं और हड्डियों को तेजी से ठीक करने में मदद करता हैं। यह होम्योपैथी चिकित्सा में इस्तेमाल किया जाता है। इनसे स्ट्रेस, सूजन, चिंता, अवसाद और आंखों की कई तरह की समस्याओं का इलाज किया जा सकता है। जिन्कगो बाइलोबा की न सिर्फ पत्तियां, बल्कि इसकी शाखा से लेकर जड़ तक हर एक चीज का इस्तेमाल किया जा सकता है।

कैमोमाइल: ये हॉर्ट के लिए भी बहुत अच्छा होता है। यह आपको चिंता, तनाव, अनिद्रा और कैंसर से निपटने में मदद कर सकता है लेकिन इसके इस्तेमाल से पहले आपको एलर्जी टैस्ट कराना जरूरी होता है। हालांकि नियमति रूप से इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।