lehragaga

कातिलों की गिरफ्तारी के लिए थाने के आगे लोगों ने लगाया धरना, बच्चों की लड़ाई में गई युवक की जान

लहरागागाः गांव मोजोवाल में दलित भोला सिंह के कातिलों की तुरंत गिरफ्तारी के लिए गांव वासियों ने लहरागागा- सुनाम मुख्य सड़कमार्ग पर थाना छाजली के आगे धरना देकर रोड जाम कर दिया और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की । 

आपको बता दें कि 15 दिन पहले दो गांव मोजोवाल और मेदेवास के बच्चों की मामूली बात पर लडाई हो गई, लेकिव बाद में दोनों गांवो के लोगों के बीच लड़ाई हो गई। जिसके बाद मोजोवाल के भोला सिंह, गुरदीप सिंह और अमृत को सिविल अस्पताल सुनाम में दाखिल करवाया गया. जहां से घायल बोला सिंह को चंडीगढ़ पीजीआई रैफर कर दिया गया लेकिन उसे फिर संगरुर सिविल अस्पताल भेज दिया, जहां पर उसने दम तोड़ दिया। 

परिवार ने पोस्टमार्टम के बाद 18 जून की शाम को पुलिस के भरोसे के बाद अंतिम संस्कार कर दिया, लेकिन पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया। बता दें कि  पुलिस ने दोनों गांवो के 16 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया लेकिन किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हुई। जिसके रोष में लोगों ने ये प्रदर्शन किया।