avdertisement
corona

हरियाणा में कोरोना का कोई गंभीर मामला सामने नहीं आया : मुख्यमंत्री खट्टर

गुरुग्राम: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आज कहा कि प्रदेश में अब तक कोरोना का कोई गंभीर मामला सामने नहीं आया है। मुख्यमंत्री ने आज यहां कोरोना वायरस को लेकर बनाए गए आइसोलेटेड वार्ड का निरीक्षण करने के बाद मीडिया कर्मियों से बातचीत करते हुए कहा कि गुरुग्राम के निजी अस्पतालों में जो भी मामले सामने आए हैं, वे सभी विदेश से आए हैं और उन्हें ऑब्जरवेशन के लिए रखा गया है। उन्होंने बताया कि विदेश में यात्र करने वालों में इस बीमारी के लक्षण ज्यादा देखने को मिल रहे हैं। 

ऐसे में उन सभी को 15 दिन के लिए ऑब्जर्वेशन में रखा जाएगा जिसके बाद उनकी जांच की जाएगी तथा रिपोर्ट के आधार पर उनको छुट्टी दी जाएगी। उन्होंने बताया कि आईटीबीपी परिसर में भी 46 ऐसे मरीजों को रखा गया था, उन्हें भी रिपोर्ट के आधार पर अब छुट्टी दे दी गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में कोरोना वायरस को लेकर बेहद गंभीर है और इसे लेकर घबराने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में इस वायरस से बचाव को लेकर निकट भविष्य में 6500 बेड्स का प्रावधान किया जाएगा तथा 1300 आइसोलेटेड वार्ड बनाए जाएंगे। 

खट्टर ने बताया कि सतर्कतावश उपाय के तौर पर प्रदेश में 200 से अधिक लोगों के एकत्रित होने पर पाबंदी लगाई गई है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 31 मार्च तक सभी विद्यालय बंद रहेंगे, केवल परीक्षार्थी ही जाएंगे। उन्होंने बताया कि पूरे प्रदेश में सभी कॉलेज, सिनेमा हॉल आदि जगहों पर जाने पर रोक लगाई गई है। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि वे अपने आस-पास स्वच्छता को बनाए रखें और किसी भी वस्तु को छूने से पहले अपने हाथों को सही तरह से साफ कर लें।