kapurthala

कपूरथला में इंटरनेश्नल कबड्डी प्लेयर की हत्या, ASI ने फायरिंग कर उतारा मौत के घाट

कपूरथलाः थाना सुभानपुर के तहत गांव लखन का पड्डा में वीरवार रात करीब दस बजे एएसआई ने कबड्डी खिलाड़ी की गोली मारकर हत्या कर दी। इस वारदात में एक और कबड्डी खिलाड़ी घायल हो गया, जिसे जालंधर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आरोपी एएसआई थाना ढिलवां में तैनात है। पुलिस ने एएसआई परमजीत सिंह समेत दो पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। थाना सुभानपुर की पुलिस एएसआई और उसके साथी को गिरफ्तार कर लिया है।

कबड्डी खिलाड़ी प्रदीप सिंह निवासी गांव लखन का पड्डा ने पुलिस को दी शिकायत मे बताया कि वह अपने साथी खिलाड़ी अरविंदरजीत सिंह, बलराज सिंह, गुरजीत सिंह के साथ अपनी एंडेवर गाड़ी में सवार होकर गांव की तरफ आ रहे थे। अभी वे गांव के अड्डे से कुछ दूर ही पहुंचे थे कि उन्हें एक काले(सूरमा) रंग की गाड़ी खड़ी दिखाई दी। गाड़ी पर काले शीशे चढ़े हुए थे, उन्हें शक हुआ तो उन्होंने गाड़ी का पीछा किया तो चालक ने कार भगा ली। 

इस पर उन्होंने उसका पीछा करके आगे जाकर गाड़ी को रोक लिया। इस पर वह तथा उसका साथी अरविंदरजीत सिंह गाड़ी से निकलकर कार का दरवाजा खटखटाने पहुंचे तो अचानक तभी गाड़ी अंदर से निकले पुलिसकर्मी परमजीत सिंह निवासी गांव बामूवाल जिला कपूरथला ने उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। एएसआई के साथ कार में मंगू निवासी गांव लखन का पड्डा भी सवार था। फायरिंग में वह तथा उसका दोस्त अरविंदरजीत सिंह गंभीर रूप से जख्मी हो गए। जबकि उनके बाकी साथियों ने गाड़ी के पीछे छुपकर अपनी जान बचाई। मौके पर पहुंचे ग्रमीणों ने घायल को अस्पताल में भर्ती कराया। अरविंदरजीत ‌को तुरंत एसजीएल अस्पताल मुस्तफाबाद लेकर पहुंचे तो डाक्टरों ने गंभीर हालत के चलते उसे किसी बड़े अस्पताल ले जाने के लिए कहा। इस पर वह तुरंत उसे जालंधर के निजी अस्पताल ले गए। जहां पर डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। आरोपी वारदात को अंजाम देकर असलहा लहराते हुए फरार हो गए।

थाना सुभानपुर के एसएचओ जसपाल सिंह ने कहा कि एएसआई परमजीत सिंह अपने एक साथी मंगू को गांव लखन का पड्डा छोड़ने जा रहा था। उन्होंने गांव जाकर कार रोक दी। इसी बीच मृतक और उसके साथी एंडेवर में सवार होकर आ रहे थे तो उन्होंने मौजूदा हालात के अनुरूप सड़क किनारे कार खड़ी होने पर शक जताया। जब वह गाड़ी के पास जाकर रुकने लगे तो एएसआई ने गाड़ी आगे बढ़ा दी। इस पर एंडेवर सवार उसका पीछा करके घेर लिया तो एएसआई को महसूस हुआ कि कुछ लोग उसका पीछा कर रहे हैं। एंडेवर से प्रदीप व अरविंदर सिंह निकले तो एएसआई ने अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से फायरिंग कर दी। इससे अरविंदरजीत सिंह की मौत हो गई। जब‌कि प्रदीप जख्मी है। 

एएसआई और उसके साथी को कत्ल केस में नामजद करके गिरफ्तार कर लिया है। नशा तस्करी के सवाल पर एसएचओ ने कहा कि ऐसा कुछ भी जांच में समाने नहीं आया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही सच्चाई सामने आएगी। फिलहाल दोनों आरोपियों का रिमांड हासिल करके पूछताछ की जाएगी।