avdertisement
Mangal Dev

हर मुश्किल से मिलेगा छुटकारा जब प्रसन्न करेंगे चन्द्रमा और मंगल देव को

आज हम आपको बताएंगे की अगर आप मंगल और चन्द्रमा को प्रसन्न करना चाहते है तो आपको क्या करना चाहिए। कहा जाता है की मंगल को नवग्रहों में सेनापति का दर्जा दिया गया है। मंगल शक्ति, ऊर्जा, आत्मविश्वास और पराक्रम का स्वामी है। इसकी राशियां मेष और वृश्चिक हैं। इसका मुख्य रंग लाल है और मुख्य तत्त्व अग्नि है। चन्द्रमा पीड़ित होने पर मन खराब होने के साथ-साथ साहस भी कमजोर हो जाता है। आइये जानते हैं मंगल और चन्द्रमाँ को कैसे प्रसन्न किया जा सकता है। 


ऐसे करें चन्द्रमा और प्रसन्न
- मंगलवार का उपवास रखें और इस दिन नमक का सेवन न करें.
- नित्य प्रातः और सायंकाल हनुमान चालीसा का पाठ करें.
- सोमवार के दिन एक लोटे में कच्चा दूध काला तिल और पानी  मिलाकर शिवलिंग पर चढ़ाएं.
- सोमवार के दिन शाम के समय सफेद वस्तुओं का दान जरूरतमंद स्त्रियों को करें.
- मंगल के मंत्र का जाप मध्य दोपहर करने से मंगल का अशुभ प्रभाव समाप्त हो जाता है.

चन्द्रमा का मन्त्र
- ॐ सोम सोमाय नमः
- और नमः शिवाय मन्त्र का यथा सम्भव जाप करें

मंगल के मंत्र
- ॐ क्रां क्रीं क्रौं सः भौमाय नमः
- धरणी गर्भ संभूतं विद्युत् कांति समप्रभम
कुमारं शक्ति हस्तं तं मंगल प्रणमाम्यहम