Wadhawan Brothers

लॉकडाउन के बीच बढ़ा VVIP ट्रीटमेंट का मामला, वधावन ब्रदर्स समेत 23 लोगों पर FIR दर्ज

कोरोना संकट के बीच देशभर में हर किसी के लिए लॉकडाउन लगाया गया है। किसी को लॉकडाउन के दौरान बाहर जाने की इजाजत नहीं दी गई है। जो भी इसका उलंघन करता है उसपर कार्रवाई हो रही है। महाराष्ट्र में कोरोना के कारण लगाए गए लॉकडाउन के बीच वीवीआईपी ट्रीटमेंट का मामला इतना बढ़ गया है कि अब दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड के प्रमोटर कपिल और धीरज वधावन समेत 23 लोगों के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। इन पर अलग-अलग धाराओं में एफआईआर दर्ज किया गया है। हमारी एंड्रायड एप डाउनलॉड करें


महाराष्ट्र पुलिस ने कपिल और धीरज वधावन पर आईपीसी की धारा 188, 269, 270, 34 और डिजास्टर मैनेजमेंट व महामारी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है। कपिल और धीरज के अलावा 21 और लोग शामिल हैं, जो महाबलेश्वर गए थे। इस बीच जांच एजेंसियों सीबीआई और ईडी ने जानकारी दी कि है कि वधावन परिवार पहली बार महाबलेश्वर नहीं गया है। दोनों जांच एजेंसियों ने बताया कि कपिल और धीरज वधावन अपने परिवार के साथ मार्च में भी महाबलेश्वर गए थे। DHFL के प्रमोटर वधावन बंधु महाबलेश्वर घूमने गए थे, यहां उनके साथ परिवार के सदस्य और कुछ सहायक भी थे। जब वो महाबलेश्वर में मौजूद अपने बंगले पर पहुंचे, तो वहां आस-पास के लोगों ने उनके आने की सूचना पुलिस को दी। इसके बाद पुलिस ने सभी को क्वारनटीन में ले लिया और लॉकडाउन उल्लंघन का केस भी दर्ज किया गया। हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ें