china

चीन और अमेरिका के लिए सहयोग एक मात्र सही विकल्प : चीनी विदेश मंत्रालय

अमेरिकी रणनीतिक जगत के करीब सौ लोगों ने हाल में संयुक्त बयान जारी कर अमेरिका और चीन के बीच महामारी के मुकाबले के लिए सहयोग करने की अपील की। इसकी चर्चा करते हुए चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता चाओ लीच्येन ने 8 अप्रैल को पेइचिंग में कहा कि इन दिनों चीन, अमेरिका और अंतरराष्ट्रीय समुदाय में व्यापक लोगों ने सक्रिय तर्कसंगत आवाज दी। चीन ने इसकी प्रशंसा की और स्वागत भी किया।  

चीनी प्रवक्ता चाओ लीच्येन ने उसी दिन आयोजित नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वायरस की कोई राष्ट्रीय सीमा नहीं है, और न ही नस्ल का फर्क है, यह मानव जाति के सामने मौजूद समान चुनौती है। अंतरराष्ट्रीय समुदाय को सहयोग कर इसे खत्म करना चाहिए। चीन मानव जाति के साझे भाग्य समुदाय की विचारधारा अपनाते हुए अमेरिका समेत विभिन्न देशों के साथ मिलकर महामारी के खिलाफ़ सहयोग मजबूत करना चाहता है, ताकि समान रूप से वैश्विक सार्वजनिक स्वास्थ्य सुरक्षा की रक्षा की जा सके।

इस बयान में कहा गया कि महामारी के शुरु में चीन ने स्थिति को छिपाया, कम पारदर्शिता दिखाई, और अमेरिका तथा अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य संगठन के साथ पूर्ण सहयोग नहीं किया। इसका खंडन करते हुए प्रवक्ता चाओ ने कहा कि यह कथन वास्तविक स्थिति के बिलकुल मेल नहीं खाता है। 

उन्होंने बल देते हुए कहा कि महामारी का प्रकोप फैलने के बाद चीन हमेशा से खुले, पारदर्शी और जिम्मेदाराना रुख अपनाता रहता है। चीन ने प्रथम समय पर विश्व स्वास्थ्य संगठन को महामारी की रिपोर्ट पेश की। प्रथम समय पर विभिन्न देशों के साथ नए कोरोनावायरस के जीन अनुक्रम को साझा किया। प्रथम समय पर महामारी की रोकथाम और नियंत्रण के संदर्भ में अंतरराष्ट्रीय सहयोग किया। प्रथम समय पर महामारी से ग्रस्त दूसरे देशों की सहायता दी। इन सबसे सामान्य स्थिति को अंतरराष्ट्रीय समुदाय में सक्रिय मूल्यांकन प्राप्त हुआ। कोई भी व्यक्ति इस तथ्य को इनकार नहीं कर सकता।      

प्रवक्ता चाओ ने यह भी कहा कि महामारी का मुकाबला करना चीन और अमेरिका के बीच सहयोग की मजबूती के लिए एक मंच मुहैया हुआ है। कुछ समय पूर्व चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के साथ फोन पर बातचीत करने के दौरान कहा कि चीन और अमेरिका के बीच सहयोग करना दोनों पक्षों के लिए हितकारी होगा, जबकि संघर्ष से दोनों को ही नुकसान पहुंचेगा। सहयोग एक मात्र सही विकल्प है। आशा है कि अमेरिका चीन के साथ मिलकर दोनों देशों के शीर्ष नेताओं के बीच संपन्न महत्वपूर्ण आम सहमतियों के अनुसार एक ही दिशा की ओर आगे बढ़ेंगे, महामारी के खिलाफ़ सहयोग मजबूत करेंगे। मुठभेड़ न होने, आपसी सम्मान करने, सहयोग और उभय जीत वाले चीन-अमेरिका संबंध का विकास करेंगे, ताकि चीनी और अमेरिकी जनता तथा दुनिया की जनता को लाभ पहुंचाया जाए।
(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)