China

चीन हमेशा वैश्विक हितों का संरक्षक है

चीनी स्टेट काउंसलर और विदेश मंत्री वांग यी ने 24 मई को आयोजित संवाददाता सम्मेलन में वैश्विक सार्वजनिक स्वास्थ्य सकंट में बहुपक्षीय सहयोग मजबूत करने की इच्छा और राष्ट्रीय प्रभुसत्ता की डटकर रक्षा करने का संकल्प व्यक्त किया और विश्व के भावी विकास के बारे में चीन के विचार पर प्रकाश डाला ।

नोवेल कोरोना वायरस के स्रोत के बारे में वांग यी ने कहा कि चीनी पक्ष और कुछ अमेरिकी राजनीतिज्ञों के बीच मूल मतभेद तथ्य और झूठ का अंतर है ।उन्होंने कहा कि चीन वायरस के स्रोत पर अंतरराष्ट्रीय वैज्ञानिक जगत के सहयोग पर खुला रवैया अपनाता है और इस प्रक्रिया में पेशेवर ,न्यायपूर्ण और रचनात्मक सिद्धांतों पर कायम रहना चाहिए ।अमेरिका और कुछ पश्चिमी देशों द्वारा महामारी के वैश्विक मुकाबले में चीन की राहत पर कलंक लगाने के बारे में वांग यी ने बल दिया कि चीन ने जो राहत कार्य किये ,उन का कोई भू-राजनीतिक लक्ष्य नहीं है और किसी भी आर्थिक हित का अनुसरण नहीं है और कोई भी राजनीतिक शर्त भी नहीं है ।उन का इरादा सिर्फ अधिकाधिक लोगों का जीवन बचाना है ।

वांग यी ने कहा कि चीन और अमेरिका को विभिन्न सामाजिक व्यवस्था ,विभिन्न सांस्कृतिक पृष्ठभूमि होने वाले देशों के बीच इस पृथ्वी पर शांतिपूर्ण सहअस्तित्व ,पारस्परिक लाभ और साझी जीत होने वाला रास्ता निकालना है ।

संवाददाता सम्मेलन में वांग यी ने बल दिया कि भू-मंडलीकरण से इंकार कर संरक्षणवाद के रास्ते पर लौटने का कोई भविष्य नहीं होगा ।मानव समुदाय सिर्फ एकजुट होकर सहयोग करने से महामारी को पराजित कर सकेगा और नया विकास पूरा करेगा ।एक जिम्मेदार बड़े देश के नाते चीन महामारी के खिलाफ वैश्विक मुकाबले के लिए यथासंभव योगदान देगा और हमेशा विभिन्न देशों के समान हितों और ऐतिहासिक विकास धारा के सही पक्ष में खड़ा रहेगा ।(साभार---चाइना मीडिया ग्रुप ,पेइचिंग)