CM Jai Ram Thakur

जन शिकायतों के तीव्र निवारण के लिए मुख्यमंत्री हेल्पलाईन के होंगे प्रयासः जय राम ठाकुर

मुख्यमंत्री हेल्पलाईन की समीक्षा बैठक हिमाचल के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की अध्यक्षता में हुई। इस मौके पर मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि जन मंच और मुख्यमंत्री हेल्पलाईन के एकीकरण की संभावनाएं तलाश की जाएंगी, ताकि जन समस्याओं के समाधान की प्रणाली को अधिक कारगर और परिणाम उन्मुख बनाया जा सके।
जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेशभर में आयोजित जन मंच से प्राप्त सभी शिकायतों को मुख्यमंत्री हेल्पलाईन को स्थानांतरित किया जाएगा, ताकि इनकी प्रभावी निगरानी सुनिश्चित हो सके और शिकायतों का शीघ्र समाधान हो सके। वर्तमान में मुख्यमंत्री कार्यालय को प्राप्त हो रही सभी शिकायतों को मुख्यमंत्री हेल्पलाईन पर दर्शाया जा रहा है और इनका शीघ्र निपटारा सुनिश्चित किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाईन को और प्रभावकारी बनाने के उद्देश्य से शीघ्र ही एक कमांड कंट्रोल सेंटर स्थापित किया जाएगा। इसी प्रकार मुख्यमंत्री डैश बोर्ड को भी शीघ्र स्थापित किया जाएगा और इसे अधिक प्रभावपूर्ण बनाने के लिए गुजरात के माॅडल के अध्ययन के लिए अधिकारियों का एक दल गुजरात का दौरा करेगा। यह सेवा प्रदेश के लोगों की समस्याओं के तीव्र समाधान के लिए एक वरदान साबित होगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री डैश बोर्ड के आरम्भ होने से वह स्वयं विभिन्न शिकायतों और समस्याओं तथा उनके समाधान के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि मुख्यमंत्री हेल्पलाईन पर आने वाली सभी शिकायतों के समाधान को शीर्ष प्राथमिकता देने के लिए पूर्ण समर्पण और निष्ठा से कार्य करें। इस मामले में कोई भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी और चूककर्ता के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि उनके स्तर पर समस्याओं का निवारण निर्धारित समय में किया जाए, ताकि शिकायतकर्ताओं को राहत प्रदान की जा सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह स्वयं मुख्यमंत्री हेल्पलाईन की प्रगति की नियमित निगरानी करेंगे और समय-समय पर शिकायतकर्ताओं से भी बातचीत करेंगे, ताकि उनकी संतुष्टि के स्तर के बारे में पता चल सके।
प्रधान सचिव, सूचना प्रौद्योगिकी जेसी शर्मा ने मुख्यमंत्री को अवगत करवाया कि अभी तक मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाईन 1100 पर 205111 काॅल्स प्राप्त हुई हैं, जिनमें से 50887 शिकायतें शामिल हैं। उन्होंने कहा कि बीते चार महीनों की अवधि में इनमें से 44210 शिकायतों का समाधान कर लिया गया है। उन्होंने मुख्यमंत्री को आश्वस्त किया कि हेल्पलाईन को और प्रभावकारी बनाने के लिए प्रभावी कदम उठाए जाएंगे।
निदेशक, सूचना प्रौद्योगिकी रोहन चन्द ठाकुर ने इस अवसर पर एक प्रस्तुति दी। मुख्य सचिव अनिल कुमार खाची, अतिरिक्त मुख्य सचिव आरडी धीमान, प्रधान सचिव ओंकार चन्द शर्मा, पुलिस महानिदेशक एसआर मरडी, प्रधान मुख्य अरण्यपाल वन अजय कुमार, सचिव डाॅ. आर एन बत्ता एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे।