avdertisement
Ram Navami

चैत्र नवरात्रि 2020: आज रामनवमी के इस शुभ मुहूर्त पर ऐसे करें रामचंद्र की पूजा, सभी कष्टों का होगा अंत

आज चैत्र नवरात्रि की नवमी है, जिसे रामनवमी के नाम से भी जाना जाता है। बता दें इस दिन अयोध्या के राजा दशरथ के पुत्र श्रीरामचंद्र जी का जन्म हुआ था जिस दिन को रामजन्मोत्सव के रूप में मनाया जाता है। आइए जानते हैं कौन रामनवमी पर पूजा का शुभ मुहूर्त-

रामनवमी का शुभ मुहूर्त-
2 अप्रैल, गुरुवार सुबह 11:10 बजे से दोपहर 1:38 बजे तक
नवमी तिथि आरंभ– 03:39 (2 अप्रैल 2020)
नवमी तिथि समाप्त– 02:42 (3 अप्रैल 2020)

रामनवमी पूजा विधि-
- ब्रह्म मुहूर्त में स्नान कर के भगवान राम का ध्यान करें और व्रत रखने का संकल्प लें। 

-पूजा की थाली में तुलसी पत्ता और कमल का फूल रखें। 

-इसके बाद भगवान राम, माता सीता और लक्ष्मण जी की प्रतिमाओं को रोली का तिलक करें, फिर चावल, फूल, घंटी और शंख भगवान श्री राम को अर्पित करने के बाद भगवान श्रीराम की विधिवत पूजा करें।

- इसके बाद रामनवमी की पूजा षोडशोपचार करें। साथ ही रामायण का पाठ तथा राम रक्षास्त्रोत का भी पाठ करें। 

- भगवान राम को खीर, फल और अन्य प्रसाद चढ़ाएं। पूजा के बाद घर की सबसे छोटी कन्या के माथे पर तिलक लगाएं और श्री राम की आरती उतारें।