CPC

सीपीसी की हमेशा से ताजा रहने की कुंजी

पहली जुलाई को चीनी कम्युनिस्ट पार्टी यानी सीपीसी की स्थापना की 99वीं जयंती है। बीते लगभग सौ सालों में इस पार्टी के सदस्यों की संख्या 9 करोड़ दस लाख तक जा पहुंची है और वह 71 सालों के लिए सत्ता पर रह चुकी है। 

चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव शी चिनफिंग ने कहा कि चीनी कम्युनिस्ट पार्टी का सदैव के लिए अपना निजी हित नहीं है। वह पूरी तरह से लोगों के कल्याण के लिए काम कर रही है। अपना यह मिशन निभाते हुए सीपीसी ने जनता का नेतृत्व लेकर राष्ट्रीय स्वतंत्रता, आर्थिक निर्माण और रुपांतर कायम किया और चीन को विश्व का दूसरा अर्थतंत्र बनाया। 

वर्तमान महामारी की रोकथाम में चीन सरकार ने जनता की जानी सुरक्षा को प्राथमिकता दी और केवल कई महीनों से महामारी को रोकने की स्पष्ट प्रगतियां हासिल कीं। विश्व मशहूर परामर्श कंपनी एडलमैन की रिपोर्ट के अनुसार चीन में लोगों को सरकार के प्रति भरोसा दर 90% रही है। यह विश्व में सर्वप्रथम है। फिलिस्तीनी राष्ट्रीय मुक्ति आंदोलन (फतह) के वरिष्ठ अधिकारी अब्बास जाकी ने कहा कि चीनी कम्युनिस्ट पार्टी का 99 साल का इतिहास जनता के हितों के लिए संघर्ष करने का इतिहास है। 

बीते वर्षों में सीपीसी ने जनता के हितों को प्राथमिकता देने के विचार से चीनी विशेषता वाला समाजवादी मार्ग अपनाया है और देश की ऐतिहासिक छलांग हासिल की है। अमेरिकी ब्रुकिंग्स संस्था के जॉन थॉर्नटन चाइना सेंटर के प्रधान ली छंग ने कहा कि चीनी कम्युनिस्ट पार्टी ने अद्वितीय विकास पथ की खोज की है जो चीन की स्थितियों के अनुकूल है, और तथ्यों से यह जाहिर है कि यह मार्ग चीन के लिए उपयुक्त है।

गत वर्ष के अंत तक सीपीसी में एक तिहाई भाग सदस्यों की उम्र चालीस साल के नीचे है। क्योंकि सीपीसी ने लगातार अपनी उन्नतिशील व्यक्तियों की भर्ती की है और शक्तिशाली स्वयं सुधार और स्वयं मरम्मत तंत्र स्थापित किया। और पार्टी के अन्दर अनुशासन और भ्रष्टाचार के खिलाफ व्यवस्था कायम की गयी है। नये युग में सीपीसी ने भी ऐतिहासिक प्रगतियां हासिल की हैं। ब्राजील के मशहूर प्रोफेसर इवैंदरो कारवाल्हो ने कहा कि चीनी कम्युनिस्ट पार्टी हमेशा आत्मनिरीक्षण कर रही है जिससे दूसरे राजनीतिक दलों के लिए एक उदाहरण खड़ा किया गया है।

चीन को समझने के लिए चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की जानकारी लेने की जरूरत है। "जनता के हितों को प्राथमिकता देने" और "स्व-नवाचार" का सिद्धांत सीपीसी की हमेशा से ताजा रहने की कुंजी है। सीपीसी जनता का नेतृत्व कर क्रांति, निर्माण और सुधार करने का बुनियादी उद्देश्य जनता को खुशहाल जीवन दिलाना है। चाहे कितनी भी चुनौती और दबाव मिले, यह कभी नहीं बदलेगा।   
( साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग )